आजमगढ़ में सपा को एक यादव नहीं मिला, सैफई से भेजना पड़ा उम्मीदवार : स्वतंत्रदेव

0
3

बलिया, 19 जून (हि. स.)। यूपी भाजपा के अध्यक्ष और जलशक्ति मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने आजमगढ़ उपचुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी पर कटाक्ष किया। उन्होंने सपा और बसपा को एक खानदान की पार्टियां बताते हुए कहा कि आजमगढ़ उपचुनाव के लिए आजमगढ़ में सपा को एक यादव नहीं मिला। उन्हें सैफई से उम्मीदवार भेजना पड़ा।

यहां गंगा नदी से होने वाले कटान से बचाने के लिए हो रहे कार्यों का निरीक्षण करने आए जलशक्ति मंत्री ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग क्या पार्टी चलाते हैं ? कहा कि जहां वंशवाद और जातिवाद होता है, वहां संस्थाएं चौपट हो जाती हैं। गुंडागर्दी जन्म लेता है। भ्रष्टाचार पनपता है। वहां कानून नहीं रहता तो सपा को क्यों लोग पसंद करेंगे ?

श्री सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पहले जातिवाद, परिवारवाद और क्षेत्रवाद की बात होती थी। अब मोदी और योगी के नेतृत्व में आठ सालों में देश मे और पांच सालों में उत्तर प्रदेश में लोगों की सोच बदली है। अब राष्ट्रवाद की बात होती है। भाजपा शासन में यह फर्क जनता महसूस कर रही है। अब न मुस्लिम तुष्टीकरण की बात होती है न जाति की। जाति धर्म से ऊपर उठकर पूरी दुनिया में देश का मान सम्मान कैसे बढ़े इसी आईडिया पर काम हो रहा है। इसी कारण उत्तर प्रदेश में पांच साल से कानून का राज रहता है। कोई किसी को परेशान नहीं कर सकता। बीजेपी का कार्यकर्ता हो या कोई और किसी का उत्पीड़न नहीं कर सकता। सपा के राज में लाठी चार्ज होती थी और गोली चलती थी। इसीलिए यहां निवेश आ रहे हैं। अब यहां किसी की प्रॉपर्टी कब्जा करने वालों पर पीड़ित के मुकदमा दर्ज कराने पर जांच कर कानून के द्वारा कार्रवाई होती है। इसमें सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं है।

डा. अम्बेडकर द्वारा बनाए गए संविधान का कानून के द्वारा पालन कराया जा रहा है। इसीलिए आज बारह बजे रात को भी बेटी घर से बाहर बिना खौफ निकल सकती है। आज यूपी में कानून के राज के कारण ही शांति है और लोग निवेश कर रहे हैं। किसी व्यक्ति का कानून नहीं है कि आजम खान पश्चिमी उत्तर प्रदेश में फोन कर देंगे तो आतंकवादी छूट जाएगा।