Monday , October 25 2021
Breaking News
Home / क्राइम / 40 किलो सोना और 65 लाख कैश के चोर गिरफ्तार, सवाल- इस दौलत का मालिक कौन?

40 किलो सोना और 65 लाख कैश के चोर गिरफ्तार, सवाल- इस दौलत का मालिक कौन?

नोएडा
सेक्टर 39 थाना पुलिस ने 6 चोरों को पकड़कर नोएडा की सबसे बड़ी चोरी का खुलासा शुक्रवार को कर दिया। पुलिस के मुताबिक यह चोरी सितंबर 2020 में ग्रेटर नोएडा के डेल्टा-1 एरिया स्थित सिल्वर सिटी सोसायटी के एक फ्लैट से हुई थी। यहां से करीब 40 किलो सोना और 6.5 करोड़ रुपये कैश नोएडा व गाजियाबाद के दो गैंग ने मिलकर चुराया था।

हालांकि जिसका फ्लैट था उसने कोई शिकायत अब तक नहीं दी थी। पुलिस ने अब 6 चोरों को गिरफ्तार कर इसका खुलासा किया है। आरोपियों के कब्जे से करीब 13 किलो सोना, 57 लाख रुपये कैश, 1 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी के दस्तावेज और एक एसयूवी बरामद हुई है।

जिनका सामान, उन्होंने विदेश में होने की कही बात
अब भी जिसका यह सामान था वह सीधे दावा नहीं कर रहा है। पुलिस का कहना है कि पिता-पुत्र ने खुद के विदेश में होने की जानकारी दी है। इनके खिलाफ गुड़गांव और दिल्ली में केस दर्ज होने की सूचना भी मिली है।

मुखबिर की सूचना पर पकड़ा गया
पुलिस की इस कामयाबी की जानकारी नोएडा जोन के डीसीपी राजेश एस व एडीसीपी रणविजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी। डीसीपी ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर दो चोरों को पकड़ा गया। सूचना यह थी कि सलारपुर निवासी दो व्यक्तियों के पास चोरी का सोना या रकम है। इस पर राजन भाटी और अरुण नाम के दो आरोपियों से पहले पुलिस ने पूछताछ की। इसके बाद अन्य आरोपी के नाम सामने आए और बरामदगी हुई।

राममणि पाण्डेय का है फ्लैट
एडीसीपी रणविजय सिंह ने जानकारी दी कि इन आरोपियों ने ही बताया है कि गाजियाबाद निवासी गोपाल इस चोरी का मास्टरमाइंड था। आरोपियों से ही यह भी पता चला है कि यह घर राममणि पांडेय व किशलय पांडेय का है। इसके बाद पुलिस ने राममणि व उनके बेटे किशलय से संपर्क किया।

एडीसीपी ने बताया कि दोनों ने खुद के विदेश में होने की जानकारी दी और बाकी कुछ स्पष्ट बताया नहीं। किशलय के परिवार की एक महिला जीटा-1 में रहती है। उनसे जब पुलिस ने इस बारे में जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने चोरी या कैश के बारे में कोई भी जानकारी होने से इनकार किया।

ये आरोपी गिरफ्तार
गिरफ्तार हुए आरोपी में राजन भाटी, अनिल, बिंटू शर्मा निवासी सलारपुर, नीरज और जय सिंह निवासी भूड़ा, अरुण निवासी मुरादाबाद है। पुलिस को अब गोपाल सहित चार अन्य आरोपियों की तलाश है। जिनसे और कैश व सोना बरामद होने की उम्मीद है।

खुद के झगड़े में खोला चोरी का राज
चोरी के बाद कोई भी शिकायत या पुलिस केस न होने पर आरोपी निश्चिंत हो गए थे। पुलिस के मुताबिक पिछले दिनों सलारपुर निवासी दो आरोपियों में किसी बात पर झगड़ा हुआ। इसी झगड़े में एक ने चोरी का राज गुस्से में खोल दिया। आरोपियों के पास एकदम से आए पैसे पर पहले से सभी की नजर थी। पुलिस के मुखबर ने थाने तक यह बात पहुंचाई और फिर पुलिस ने अपना काम किया।

सभी को 4 किलो सोना व 65 लाख कैश मिला था
एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि अभी पुलिस के पास इस चोरी में कोई शिकायत नहीं है इसलिए यह नहीं कहा जा सकता कि कितने की चोरी हुई थी। हालांकि आरोपियों ने ही पूछताछ में बताया है कि बंटवारे में एक आदमी को चार किलो सोना और 65 लाख रुपये कैश हिस्से पर मिला था। मास्टरमाइंड गोपाल, जिसको फ्लैट में इतनी बड़ी रकम व सोना होने की जानकारी थी, वह अभी फरार है। माना जा रहा है कि बंटवारे में उसने इन सबसे ज्यादा लिया होगा।

ईडी और इनकम टैक्स को पुलिस ने दी जानकारी
डीसीपी राजेश एस ने बताया कि इतनी बड़ी बरामदगी होने पर पुलिस ने ईडी और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को जानकारी दी है। यह दोनों विभाग सोना और पैसे के सोर्स और वारिस का पता लगाएंगे। अभी जो कार्रवाई हुई है उसे सिर्फ बगैर दस्तावेज के धन की बरामदगी के रूप में पुलिस दिखाएगी।

25 हजार रुपये के ईनाम की घोषणा
डीसीपी राजेश एस ने बताया कि सूचना मिलने पर दो टीमें बनाई गई थी। एक टीम एडीसपी रणविजय सिंह और दूसरी एसीपी-1 अंकिता शर्मा की थी। इन दोनों अधिकारियों ने सेक्टर-39 थाना प्रभारी आजाद तोमर के साथ मिलकर खुलासा किया। थाना पुलिस की टीम को 25 हजार रुपये का ईनाम दिया जाएगा।
बड़े अप्‍लायंसेज/

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...