एक अंतरिक्ष सूट की कीमत पर चकित हो जाओ! जानें कि इसे क्या खास बनाता है और इसकी कीमत क्या है

0
11

हम जानते हैं कि सौरमंडल में जाने के लिए स्पेस सूट पहनना जरूरी है। इसके बिना अंतरिक्ष यात्रा घातक हो सकती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि पृथ्वी के अलावा कोई ऐसा ग्रह नहीं है जहां इंसान चंद मिनट भी रह सके। मन में सवाल यह है कि अंतरिक्ष सूट में ऐसा क्या होता है जो दूसरे ग्रह पर जीवन के जोखिम को खत्म कर देता है।

स्पेस सूट कोई साधारण ड्रेस नहीं है। यह अंतरिक्ष यात्रियों के लिए सुरक्षा कवच का काम करता है। स्पेस सूट में ऑक्सीजन, पीने का पानी, इनबिल्ट शौचालय और एयर कंडीशनिंग है।

स्पेस सूट कोई साधारण ड्रेस नहीं है। यह अंतरिक्ष यात्रियों के लिए सुरक्षा कवच का काम करता है। स्पेस सूट में ऑक्सीजन, पीने का पानी, इनबिल्ट शौचालय और एयर कंडीशनिंग है।

स्पेस सूट के साथ एक बैक पैक भी है जो अंतरिक्ष यात्रियों को ऑक्सीजन प्रदान करता है। इसके अलावा स्पेस सूट में लगा पंखा सूट से कार्बन डाइऑक्साइड छोड़ता है। अलग-अलग ग्रहों पर स्थितियां भी अलग-अलग होती हैं, इसलिए स्पेस सूट पहनना जरूरी है।

स्पेस सूट के साथ एक बैक पैक भी है जो अंतरिक्ष यात्रियों को ऑक्सीजन प्रदान करता है। इसके अलावा स्पेस सूट में लगा पंखा सूट से कार्बन डाइऑक्साइड छोड़ता है। अलग-अलग ग्रहों पर स्थितियां भी अलग-अलग होती हैं, इसलिए स्पेस सूट पहनना जरूरी है।

बुध, शुक्र और सूर्य जैसे ग्रहों का तापमान बहुत अधिक होता है। मंगल बहुत ठंडा है। इसलिए मंगल ग्रह पर रहने के लिए आपको बहुत गर्म कपड़ों की आवश्यकता होगी। ऐसी जगहों के लिए स्पेस सूट की जरूरत होती है, जो उन्हें कुछ देर रुकने, स्पेस को समझने और रिसर्च करने में मदद करते हैं।

बुध, शुक्र और सूर्य जैसे ग्रहों का तापमान बहुत अधिक होता है। मंगल बहुत ठंडा है। इसलिए मंगल ग्रह पर रहने के लिए आपको बहुत गर्म कपड़ों की आवश्यकता होगी। ऐसी जगहों के लिए स्पेस सूट की जरूरत होती है, जो उन्हें कुछ देर रुकने, स्पेस को समझने और रिसर्च करने में मदद करते हैं।

एक स्पेस सूट की कीमत करीब 90 करोड़ रुपए होती है। यह बहुत महंगा है क्योंकि इसमें बहुत सारी विशेषताएं हैं। यह कई परतों से बना होता है, इसलिए एक सिस्टम की मदद से तापमान को बनाए रखा जाता है।

एक स्पेस सूट की कीमत करीब 90 करोड़ रुपए होती है। यह बहुत महंगा है क्योंकि इसमें बहुत सारी विशेषताएं हैं। यह कई परतों से बना होता है, इसलिए एक सिस्टम की मदद से तापमान को बनाए रखा जाता है।

Check Also

हांगकांग में पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र दुनिया का सबसे बड़ा ‘जंबो फ्लोटिंग रेस्टोरेंट’ दक्षिण …