Saturday , November 27 2021
Home / क्राइम / एजाज खान ने बनाया ऐसा Video, लोग बोले- इसे फौरन Arrest करो

एजाज खान ने बनाया ऐसा Video, लोग बोले- इसे फौरन Arrest करो

विवादों में बने रहने वाले एक्टर और बिग बॉस के एक्स कंटेस्टेंट एजाज खान को गिरफ्तार करने की मांग सोशल मीडिया यूजर्स कर रहे हैं. दरअसल एजाज ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने कुछ आपत्त‍िजनक बातों का प्रयोग किया. वीडियो देखते ही लोगों का गुस्‍सा एजाज खान पर फूटने लगा. भड़के हुए लोग एजाज की इस गलती के लिए उन्हें सजा देने की मांग कर रहे हैं.

बुधवार को देर रात 12.30 बजे फेसबुक लाइव वाले इस वीडियो में एजाज खान काफी गुस्से में नजर आए. उनका कहना है कि इस देश में जो कुछ भी होता है उसके लिए मुसलमानों को ही जिम्मेदार ठहराया जाता है. इसके अलावा उन्होने मशहूर मीडियाकर्मियों को भी उल्टा सीधा बोला है.

वीडियो की शुरुआत में एजाज ने कहा, ‘चींटी मर गई, मुसलमान जिम्‍मेदार.. हाथी मर गया मुसलमान जिम्‍मेदार, दिल्‍ली में भूकंप आया सारे मुसलमान जमीन के नीचे घुसे और हिले तो भूकंप आ गया… यानी हर चीज के लिए मुसलमान जिम्‍मेदार है. लेकिन ये साजिश कर कौन रहा है, कभी सोचा आप लोगों ने..’

इसके बाद एजाज ने इस सब का जिम्‍मेदार एक राजनीतिक पार्टी को बताया है. एजाज ने इस वीडियो में कहा कि कोरोना से ध्‍यान हटाने के लिए इस पूरे मामले में सांप्रदायिकता जोड़ी जा रही है. अपने इस वीडियो में एजाज ये भी कहते हुए नजर आ रहे हैं, ‘ऐसे लोग जो देश में ऐसा कर रहे हैं, उन सब को कोरोना हो जाए.’

इस वीडियो में बांद्रा स्‍टेशन पर जमा हुई भीड़ के इकट्ठे होने के पीछे भी राजनीति का हाथ बताते हुए कहा कि मुसलमानों को ग्रुप पर ये मैसेज भेजे गए कि ट्रेनें चलेंगी. उन्‍होंने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया क्‍योंकि उद्धव ठाकरे और आदित्‍य ठाकरे का काम इन लोगों से देखा नहीं जा रहा. एजाज ने इस वीडियो में काफी आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया है.

एजाज के इस वीडियो के शुरुआती हिस्‍से को ट्विटर पर शेयर किया गया है और लोगों ने उनकी भाषा से लेकर उनकी टिप्‍पणियों पर विरोध जाहिर किया है. ट्विटर पर #अरेस्ट_एजाज_खान नंबर 1 ट्रेंड बना हुआ है. कई लोग मुंबई पुलिस से एजाज को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं.

loading...

Check Also

कहानी दुनिया के सबसे ख़ौफ़नाक सीरियल किलर की! नाम था जैक द रिपर

Jack the Ripper serial killer : वो साल था 1888, लंदन में एक के बाद ...