कर्मचारियों को करोड़पति बना रही है ये भारतीय कंपनी, 1 करोड़ से ज्यादा कमाने वाले कर्मचारियों की संख्या में 44 फीसदी की बढ़ोतरी, क्या आप यहां काम करते हैं?

ITC Share Price: महंगाई के इस दौर में कामकाजी लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नौकरीपेशा लोगों का वेतन सीमित है। जिससे उन्हें अपने खर्चे को लेकर काफी सावधान रहना पड़ता है। हालांकि, देश में एक कंपनी ऐसी भी है जिसमें करोड़पति कर्मचारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इस बार भी कंपनी में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या में इजाफा हुआ है।

करोड़पति कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है

कंपनी भारत की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। यहां हम बात कर रहे हैं आईटीसी की। आईटीसी का कारोबार एफएमसीजी, होटल, सॉफ्टवेयर, पैकेजिंग, पेपरबोर्ड, स्पेशलिटी पेपर और कृषि व्यवसाय से जुड़ा है। वहीं, कंपनी में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या में 44 फीसदी का इजाफा हुआ है।

44 प्रतिशत की वृद्धि

कंपनी की सालाना रिपोर्ट के मुताबिक हाल ही में खत्म हुए वित्त वर्ष 2021-22 में 1 करोड़ रुपये से ज्यादा कमाने वाले आईटीसी कर्मचारियों की संख्या में 44 फीसदी का इजाफा हुआ है. आईटीसी की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि रु। 8.5 लाख या रु. 2020-21 में 153 के मुकाबले 1 करोड़ से अधिक आय वाले आईटीसी कर्मचारियों की कुल संख्या 220 थी।

रुपये से अधिक वेतन

31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष की वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि 220 कर्मचारी थे जो पूरे वर्ष कार्यरत थे और कुल रु। वित्तीय वर्ष में आईटीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक संजीव पुरी द्वारा लिए गए वेतन में 5.35 प्रतिशत की वृद्धि के मुकाबले 1 करोड़ या अधिक, जो बढ़कर रु। 12.59 करोड़।

वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि पुरी का वेतन सभी कर्मचारियों के पारिश्रमिक और औसत पारिश्रमिक के अनुपात में 224:1 था। वित्त वर्ष 2011 में पुरी का कुल पारिश्रमिक रु। 11.95 करोड़। आईटी समम के कार्यकारी निदेशकों बी सुमंत और आर. टंडन को रुपये से सम्मानित किया गया है। 5.76 करोड़ रु. कुल पारिश्रमिक 5.60 करोड़ रुपये प्राप्त हुए।

कर्मचारियों की संख्या में कमी

वहीं, 31 मार्च 2022 तक आईटीसी कर्मचारियों की कुल संख्या 23829 थी, जो पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 8.4 प्रतिशत कम है। इसमें 21,568 पुरुष और 2,261 महिला कर्मचारी शामिल हैं। इसके अलावा, इसमें स्थायी श्रेणी के बाहर 25,513 कर्मचारी थे। 31 मार्च, 2021 तक आईटीसी कर्मचारियों की कुल संख्या 26,017 थी।

वित्तीय बडत

FY22 में, ITC कर्मचारियों के औसत वेतन में 7% की वृद्धि हुई। वहीं, 31 मार्च 2022 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में आईटीसी का कुल राजस्व रु. रुपये के मुकाबले 59,101 करोड़ रुपये। 48,151.24 करोड़।