Thursday , October 21 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कानपुर : अपने ही जाल में फंस रही गोरखपुर पुलिस, एसआईटी को मिले कई अहम सबूत !

कानपुर : अपने ही जाल में फंस रही गोरखपुर पुलिस, एसआईटी को मिले कई अहम सबूत !

कानपुर । कानपुर के रियल इस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत कैसे हुई इसकी जांच तो जारी है पर इस बीच सूनी सड़क पर 11 किमी की दूरी 1.24 मिनट में तय कर घायल को मेडिकल कालेज में पहुंचाने पर पुलिस फंसती नजर आ रही है। आधी रात के समय पुलिसवालों ने मनीष गुप्ता को जितने समय में पहुंचाया था उससे तीन गुने कम समय यानी महज 27 मिनट में एसआईटी पहुंच गई थी वह शाम 5 बजे, जिस वक्त सड़क पर काफी ट्रैफिक होती है। एसआईटी ने अपनी जांच में यह सारे बिंदू शामिल किए हैं। देर होने के पीछे की वजह या तो पहले ही मनीष गुप्ता की मौत हो चुकी थी जिससे मेडिकल कालेज में दाखिल दिखाकर पुलिस महज अपनी खानापूर्ति में जुटी थी या फिर पुलिसवाले जानबूझ कर देरी कर रहे थे जिससे कि मनीष गुप्ता की मेडिकल कालेज ले जाने से पहले मौत हो जाए। कानपुर के रियल इस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता के मौत की गुत्थी सुलझा रही एसआईटी को होटल के कमरा नम्बर 512 के अलवा बाहर भी कदम-कदम पर लापरवाही के सबूत मिले हैं। सबसे अहम सबूत तो होटल कृष्णा पैलेस से मानसी हास्पिटल और फिर मेडिकल कालेज तक की दूरी को लेकर है।

कृष्णा पैलेस होटल के अगल-बगल एक नहीं कई हास्पिटल मौजूद हैं पर पुलिसवाले घायल मनीष को वहां से करीब दो किमी दूर मानसी हास्पिटल में ले गए। यह हास्पिटल फलमंडी चौकी के अन्तर्गत आता है और जेएन सिंह के अलावा जो दूसरा आरोपित अक्षय मिश्रा है वह इसी चौकी क्षेत्र का इंचार्ज है। यही वजह है कि वह अपने क्षेत्र के हास्पिटल में मनीष गुप्ता को लेकर पहुंचा था। हालांकि उन्हें मानसी हास्पिटल पहुंचने में दस मिनट लगे थे। वहीं सवाल यह भी है कि अगर वे होटल के पास के हास्पिटल में नहीं ले जा सकते थे तो कायदन उन्हें जिला अस्पताल या फिर मेडिकल कालेज ही सीधे लेकर जाना चाहिए था। हालांकि उन्होंने मेडिकल कालेज ले जाने का फैसला मानसी हास्पिटल के बाद किया था। मानसी हास्पिटल के डा. राजेन्द्र मौर्या ने जब मनीष को चेक किया तो उनकी बीपी और पल्स नहीं मिल रही थी।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...