Sunday , October 24 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कानपुर : पानी में मिले हानिकारक जीवाणु, अब जांच के लिए लखनऊ भेजा जाएगा सैंपल

कानपुर : पानी में मिले हानिकारक जीवाणु, अब जांच के लिए लखनऊ भेजा जाएगा सैंपल

कानपुर से 9 किमी. दूर कल्यानपुर ब्लॉक स्थित कुरसौली में बुखार और डेंगू ने जमकर कहर बरपाया। बीते 3 हफ्तों में बुखार से गांव में 13 मौतें हो चुकी हैं। स्थानीय ग्रामीणों के कहने पर प्रशासन ने गांव में पानी की जांच जल निगम से कराई। जल निगम की रिपोर्ट आ गई है। रिपोर्ट चौंकाने वाली है। उसमें आधे से ज्यादा गांव का पानी प्रदूषित पाया गया है। पानी में बैक्टीरियोलॉजिकल इंफेक्शन(जीवाणु से होने संक्रमण) पाया गया है। गुरुवार को रिपोर्ट आने के बाद अब गांव में टैंकर से पानी की सप्लाई की जा रही है।

पानी में मिले हानिकारक जीवाणु

जल निगम अधिशाषी अभियंता संजीत कटियार ने बताया कि शुरुआती जांच में गांव के पानी में बैक्टीरियोलॉजिकल इंफेक्शन पाया गया है। मतलब की पानी में ऐसे जीवाणु पाए गए हैं, जो हानिकारक हैं। किसी भी तरह का रासायनिक इंफेक्शन नहीं पाया गया है। अब इनकी डिटेल जांच के लिए पानी का दोबारा सैंपल लेकर सोमवार को लखनऊ स्थित लैब में जांच के लिए भेजा जाएगा।

48 में से 18 हैंडपंप का पानी ही पीने लायक

कुरसौली गांव में करीब 250 मकान हैं। इसमें लगभग 1300 लोग रहते हैं। गांव में लगे 48 हैंडपंप की जांच बुधवार को कराई गई थी। जिसमें से 18 हैंडपंप का पानी ही पीने लायक पाया गया है। रिपोर्ट आने के बाद लोगों से हैंडपंप का पानी न पीने के लिए बोला गया है।

जल निगम की रिपोर्ट के बाद कार्यकारी डीएम व सीडीओ डा. महेंद्र कुमार ने पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि जलकल से 2 टैंकर लेकर शुद्ध पानी की सप्लाई गांव में कराई जाए।

दूषित हो रहा है ग्राउंड वाटर

अधिशाषी अभियंता ने बताया कि ग्राउंड वाटर कई वजहों से दूषित हो सकता है। नालियों, सोख्ता, नालों का पानी सीधे जमीन में जा रहा है। पानी में जीवाणु मिलने का ये एक बड़ा कारण हो सकता है। बाकी लखनऊ से रिपोर्ट आने के बाद कुछ कहा जा सकता है।

सीडीओ डा. महेंद्र कुमार ने सीएमओ डा. नैपाल सिंह को निर्देश दिए हैं कि गांव में ग्रामीणों को जागरुक किया जाए। लोगों को पानी उबालकर पीने को कहा जाए। क्लोरीन युक्त की पानी की सप्लाई की जाए।

वहीं सीएमओ डा. नैपाल सिंह ने बताया कि गांव में क्लोरीन की गोलियां बांटी जा रही हैं। लोगों को पानी उबालकर पीने के लिए कहा गया है।

इन बीमारियों का खतरा

जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर मेडिसिन डिपार्टमेंट डा. एसके गौतम ने बताया जीवाणुयुक्त पानी पीने से पेट में इंफेक्शन, बुखार, सिरदर्द, उल्टी या दस्त, डायरिया समेत अन्य बीमारियां हो सकती हैं।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...