Tuesday , May 18 2021
Breaking News
Home / खबर / डबल मास्किंग : इन्फेक्शन रोकने में कितना कारगर है ये तरीका, कैसे पहनें डबल मास्क?

डबल मास्किंग : इन्फेक्शन रोकने में कितना कारगर है ये तरीका, कैसे पहनें डबल मास्क?

कोरोना से बचाव के लिए मास्क हमेशा से ही कारगर रहा है। सरकारें भी मास्क पहनने को लेकर शुरू से ही सख्ती बरत रही हैं। मास्क के प्रकार और अलग-अलग मास्क के संक्रमण रोकने की क्षमता पर कई रिपोर्ट्स आती रही हैं। इसी बीच अमेरिका के Centers for Disease Control and Prevention (CDC) ने मास्क को लेकर एक नया खुलासा किया है। CDC के विशेषज्ञों का कहना हैं कि एक मास्क की जगह दो मास्क पहनना ज्यादा कारगर है। इसे डबल मास्किंग कहा जाता है। ये शरीर में जाने वाले संक्रमण के ड्रॉपलेट को रोकने में 90 प्रतिशत से भी ज्यादा कारगर है।

आइये समझते है कि डबल मास्किंग क्या है, एक साथ दो मास्क कैसे पहने जाते हैं, कब डबल मास्क पहनना है और कब नहीं, जैसे सवालों के जवाब…

डबल मास्क कब न पहनें?

  • अगर आप घर में हैं तो एक मास्क से आपका काम चल सकता है।
  • आप किसी ऐसी जगह जा रहे हैं जहां सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है तो डबल मास्क न पहनें।
  • बच्चों को डबल मास्क न पहनाएं।

डबल मास्क कब पहनें?

  • घर से बाहर जाने पर
  • डॉक्टर के पास जाने पर
  • यात्रा करने पर
  • किसी भी भीड़ भरी जगह जाने पर
  • ऐसी जगह जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना मुश्किल हो

डबल मास्किंग कितनी कारगर?

  • साधारण तरीके से पहनने पर सर्जिकल मास्क ड्रॉपलेट को रोकने में 56.1% कारगर
  • इलास्टिक में गांठ बांधने और किनारों को मोड़ने पर सर्जिकल मास्क 77% कारगर
  • डबल मास्क ड्रॉपलेट को रोकने में 85.4 प्रतिशत कारगर
loading...
loading...

Check Also

कांग्रेस MLA की गर्लफ्रेंड की खुदकुशी: जल्द शादी करने वाले थे उमंग सिंघार, इंटरनेट पर हुई थी मुलाकात

भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व वन मंत्री और गंधवानी से कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार की मुश्किलें बढ़ ...