Thursday , December 2 2021
Home / ऑफबीट / कोरोना का कहर : जोनाथन जैसे कितने होंगे जो किसी अपने से कह भी न सके होंगे अपनी आखिरी बात !

कोरोना का कहर : जोनाथन जैसे कितने होंगे जो किसी अपने से कह भी न सके होंगे अपनी आखिरी बात !

हजारों ज़िंदगियां अमेरिका में कोरोना की वजह से दम तोड़ चुकी हैं. उस तादाद में न मालूम कितने जोनाथन ऐसे भी रहे होंगे जो अपनी आखिरी बात किसी अपने से कह भी न सके होंगे. कोरोनावायरस की वजह से अपने पति को खो चुकी कैटी कोएल्हो महिला तब और फूट-फूट कर रो पड़ी जब उसके हाथ पति का आखिर खत लग गया जो कि जोनाथन ने अस्पताल में मोबाइल में लिखा था, ‘मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं’.

Buzzfeed में छपी खबर के मुताबिक अमेरिका के कनेक्टीक्यू राज्य में डेनबरी की ये घटना मार्मिक व दिल को दहला देने वाली है. कैटी कोएल्हो की बेबसी और बेसब्री एक-एक मिनट बढ़ती जा रही थी क्योंकि कोरोना संक्रमण की वजह से अस्पताल में पति जोनाथन कोएल्हो भर्ती हो चुका था. हंसते-खेलते प्यारे से परिवार पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा था. पति के कोरोना पॉज़िटिव होने की वजह से पूरा घर बिखर चुका था.

घर में कैटी अपने दो बच्चे के साथ तो पति जोनॉथन अस्पताल में भर्ती.  इस महामारी की वज़ह से कैटी बच्चों को छोड़ अपने पति के पास भी नहीं जा पा रही थी. उसे रात-दिन केवल एक ही चिंता व इंत़ज़ार रहता था कि अस्पताल से कोई शुभ समाचार मिल सके जोनाथन की सेहत के बारे में. अस्पताल से फोन कॉल आया पर जोनाथन की सेहत के बारे में कोई शुभ समाचार लेकर नही, शायद नियति ने तो  कुछ और ही तय कर रखा था.

अस्पताल से फोन कॉल तो आया लेकिन जोनाथन की आखिरी टूटती सांसों के बारे में जानकारी देने के लिए. कैटी बदहवास सी भाग कर अस्पताल पहुंची लेकिन तब तक ज़िंदगी जोनाथन से दूर हो चुकी थी. कैटी का सब कुछ ख़त्म हो चुका था. पति की मौत के बाद उसका बिखरा सामान समेटते वक्त कैटी को जोनाथन का फोन मिला. इस फोन में जोनाथन का लिखा आखिरी खत मिला. जैसे तहरीरों में सिमटे दर्द को मानों जोनाथन ने खुशियों के लम्हों को घोलने की कोशिश की हो. कैटी ने अपने पति के लिखें आख़री ख़त को रोई आंखों से पढ़ने की कोशिश कर रही थी पर सारे शब्द आंखों से धुंधलाता जा रहा था-

मैं तुम्हें दिल की गहराइयों से बहुत प्यार करता हूं और तुमने मुझे बहुत अच्छी ज़िंदगी दी है. मैं बहुत खुशकिस्मत हूं,  तुम्हारा पति और ब्रेडिन और पेनी का पिता होने पर मुझे गर्व महसूस होता है. तुम सबसे खूबसूरत देखभाल करने वाली पत्नी हो. वास्तव में तुम अपने आप में अनोखी, अद्वित्व और अनमोल हो. ये भरोसा दिलाओ कि मेरे जाने के बाद भी तुम ज़िंदगी को उसी खुशी और शिद्दत के साथ जियोगी. तुम्हारी इन खूबियों ने ही मुझे तुम्हारे प्यार में डाल दिया. तुम बच्चों की सबसे अच्छी मां हो और ये अनुभव करना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है.

जोनाथन के लिखे शब्दों को कैटी पढ़ते जा रही थी और उन लकीरों को छूकर जोनाथन को मानों महसूस कर रही थी. जोनाथन ने खत का एक हिस्सा बच्चों के लिए भी छोड़ा था और लिखा था कि, ब्रेडिन को बताना कि वो मेरा सबसे अच्छा साथी था और उसका पिता होना मेरे लिए बहुत गर्व की बात है और उससे कहना कि वो जो भी अब तक अच्छा, शानदार काम करता रहा है उसे जारी रखे. पेनी को कहना कि वो तो हमारी राजकुमारी है और ज़िंदगी में जो कुछ भी चाहेगी वो उसे हासिल कर लेगी. जोनाथन के आखिरी खत की वजह से कैटी भावनाओं के उबाल में निढाल होती जा रही थी. फिर जोनाथन ने जो लिखा वो कैटी के दिल को भीतर तक झकझोर कर चला गया. जोनाथन ने आगे लिखा, अगर तुम्हें कोई मिले और ऐसा लगे कि वो तुमसे और बच्चों से बहुत प्यार करता है जैसे कि मैं. तो खुद को रोकना मत और ज़िंदगी में आगे बढ़ जाना व हमेशा खुश रहना चाहे कोई भी बात हो.

दरअसल, जोनाथन और कैटी एक दूसरे को कॉलेज से ही जानते थे. पढ़ाई के दौरान ही दोनों एक दूसरे से अटूट प्यार करने लगे थे और उसके बाद शादी कर ली थी. दोनों के दो बच्चे हैं. जोनाथन घर में कमाने वाले अकेले शख्स थे. 26 मार्च को जोनाथन का कोविड19 टेस्ट पॉज़िटिव आया था और 22 अप्रैल को हार्ट अटैक हुआ. जोनाथन 28 दिन तक हॉस्पटिल में भर्ती रहे जिसमें 20 दिन वो वेंटिलेटर पर थे. तमाम एहतियात बरतने के बावजूद जोनाथन को कोरोना संक्रमण हो गया था. शुरुआत मे उनके लक्षण देख कर डॉक्टरों को लगा था कि वो दो दिन में ठीक हो जाएंगे लेकिन तबीयत बिगड़ती ही चली गई. आखिरकार 32 साल की उम्र में जोनाथन अपनी अनमोल मोहब्बत कैटी कोएल्हो को छोड़कर न चाहते हुए भी दुनिया से चले गए.

loading...

Check Also

बर्फीले इलाकों में पाए जाने वाले काले सफेद पक्षी पेंग्विन हो सकते हैं एलियंस !

-मिले दूसरे ग्रह से ‘कनेक्शन’ के सबूत लंदन । धरती पर बर्फीले इलाकों में पाए ...