Saturday , December 4 2021
Home / ऑफबीट / कोरोना पर दुनिया ने पूछा सवाल, चीन का जवाब- एड्स पर अंकल सैम से कभी पूछे ?

कोरोना पर दुनिया ने पूछा सवाल, चीन का जवाब- एड्स पर अंकल सैम से कभी पूछे ?

कोरोना वायरस को लेकर छिड़ी जुबानी जंग के बीच चीन ने अमेरिका पर जोरदार प्रहार किया है। चीन ने पूछा कि जब एचआईवी और एन1एन1 वायरस का केंद्र अमेरिका के रहने के बावजूद उसपर कोई दंड नहीं लगाया गया तो फिर कोरोना संकट में हमारे खिलाफ कार्रवाई की मांग क्यों हो रही है? दरअसल, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को आगाह किया है कि अगर यह पाया गया कि वह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी को फैलाने का जिम्मेदार है और उसे इसके बारे में जानकारी थी तो उसे इसके नतीजे भुगतने होंगे। अब चीनी विदेश मंत्रालय ने इसपर जवाब दिया है।

मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा, ‘2009 में एच1एन1 फ्लू की शुरुआत हुई और वह दुनिया के 214 देशों व क्षेत्रों में फैला, इससे दुनिया में कोई 2 लाख लोगों की जान गई। क्या किसी ने अमेरिका से मुआवजे की मांग की?’ वह यहीं नहीं रुके 80 के दशक में फैले एचआईवी को लेकर भी अमेरिका पर निशाना साधा और कहा, ‘एड्स की खोज सबसे पहले 1980 के दशक में अमेरिका में हुई थी और पूरी दुनिया में फैली। जिससे पूरी दुनिया में चिंता बढ़ गई। क्या किसी ने अमेरिका को जवाबदेह ठहराया?’

दिसंबर में कोरोना वायरस का मामला सामने आने के बाद ही ट्रंप ने उसे चीनी वायरस बुलाना शुरू किया था और आरोप लगाए थे कि उसने वायरस को लेकर दुनिया से सच छुपाया। वहीं, जब अमेरिका में भयावह स्थिति पैदा हुई तो विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने चीन की जवाबदेही तय किए जाने की मांग की।

चीनी विदेश मंत्रालय यहीं नहीं रुका इसने 2008 की वैश्विक मंदी के लिए भी अमेरिका को जिम्मेदार ठहराते हुए उसपर गंभीर संवाल किए। प्रवक्ता ने कहा, ‘प्रवक्ता ने नैशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर के प्रफेसर किशोर महबूबानी के एक वक्तव्य का हवाला देते हुए कहा कि अमेरिका में लीमैन ब्रदर्स के गिरने से 2008 में वैश्विक आर्थिक संकट पैदा हुआ, लेकिन किसी ने अमेरिका से नहीं कहा कि आपको इसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे।

loading...

Check Also

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 का काउंटडाउन शुरू : क्या कांग्रेस को फॉलो करने लगी सपा ?

यूपी विधानसभा चुनाव 2022(UP Assembly Election 2022) का रण निकट है. सभी राजनीतिक दल अपने-अपने ...