Thursday , December 2 2021
Home / उत्तर प्रदेश / कोरोना पर RBI का बड़ा कदम, रिवर्स रेपो रेट की कम, मार्केट में भी कैश से भरेंगे दम

कोरोना पर RBI का बड़ा कदम, रिवर्स रेपो रेट की कम, मार्केट में भी कैश से भरेंगे दम

कोरोना वायरस महासंकट के बीच भारतीय रिजर्व बैंक (RBI ) गवर्नर शक्तिकांत दास ने एकबार फिर बड़े कदमों का ऐलान किया है. केंद्रीय बैंक ने रिवर्स रेपो रेट में 0.25 फीसदी कटौती की है. अब ये 3.75 फीसदी हो गई है. इसी के साथ बाजार में नकदी संकट ना आए इसके लिए भी 50 हजार करोड़ रुपये की अतिरिक्त मदद की बात कही.  इसके लिए TLTRO का ऐलान किया गया है.

शुक्रवार सुबह RBI गवर्नर मीडिया से मुखातिब हुए और दावा किए कि कोरोना वायरस महासंकट के बीच भारत की GDP 1.9 की रफ्तार से बढ़ेगी. दास ने कहा कि देश की वित्तीय हालत पहले से बिगड़ी जरूर है लेकिन जी-20 देशों के मुकाबले भारत की अर्थव्यवस्था अभी भी बेहतर है. RBI गवर्नर का मानना है कि जब कोरोना का दौर चला जाएगा तो भारत की जीडीपी एक बार फिर 7 से अधिक की रफ्तार से बढ़ेगी.

इस दौरान उन्होंने कहा कि 1929 के बाद यह देश में सबसे बड़ी आर्थिक गिरावट है और वित्तीय हालत पर हमारी पूरी नजर है. वो बोले कि कोरोना संकट के बीच बैंक सभी हालात पर नजर रखे हुए है और कदम-कदम पर फैसले लिए जा रहे हैं. वित्तीय नुकसान को कम करने की कोशिश की जा रही है. RBI गवर्नर ने कहा कि मुश्किल घड़ी में सब एक साथ मिलकर लड़ रहे हैं. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में  RBI गवर्नर ने उन सभी विभागों को सलाम भी किया जो कोरोना से लड़ाई के लिए फील्ड में हैं.

इसके पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में 75 बेसिस पाइंट की कटौती करते हुए इसे 4.4 पर्सेंट कर दिया. माना जा रहा है कि इस कदम से लोगों को उनकी ईएमआई में राहत के साथ-साथ कम रेट पर कर्ज भी मिलेगा. इस कदम से बैंकों को अपनी लिक्विडिटी बढ़ाने में मदद मिली ताकि वे ज्यादा कर्ज भी दे सकें.

गौरतलब है कि कोरोना संकट की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत काफी खराब है. लॉकडाउन की वजह से लगभग सभी तरह के काम-धंधे बंद पड़े हैं और हर दिन 35 हजार करोड़ का नुकसान हो रहा है. लॉकडाउन के पहले चरण में ही देश की जीडीपी को करीब 8 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है.

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...