Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / पुलिस को जब आया फोन- “मैं 25 साल पहले किए एक कत्ल को कबूल करना चाहता हूं”

पुलिस को जब आया फोन- “मैं 25 साल पहले किए एक कत्ल को कबूल करना चाहता हूं”

तारीख़ 24 नवंबर 2020. अमेरिका के एक पुलिस स्टेशन में अचानक एक कॉल आई. फोन उठाते ही दूसरी तरफ़ से आवाज़ आई, “मैं एक हत्या को कबूल करना चाहता हूं जिसे मैंने 25 साल पहले अंजाम दिया था”.इतना सुना भर था की पूरे थाने में बैठे पुलिसवालों के एक पल के लिए होश उड़ जाते हैं. एक ऐसी कॉल जिसने पूरे पुलिस विभाग को हिला कर रख डाला. इस कॉल की कड़ी जुड़ती है आज से लगभग दो दशक पहले हुए एक खूनी वारदात से. एक ऐसा खूनी खेल जिसे अपराधी ने इतने शातिर तरीके से अंजाम दिया कि सबूत ढ़ूढ़ने में पुलिस के जूते घिस गए . आखिर में सबूत के नाम पर पुलिस को मिला सिर्फ़ ठेंगा. हत्यारे का कोई नामो निशान नहीं .

कॉल से उड़े पुलिस के होश

ऐसे में जब हत्यारे ने पुलिस को कॉल कर अपने गुनाह को कबूला तो उस वक्त पुलिस महकमे को लगा कि कोई इनके साथ मजाक कर रहा है. पुलिस को यकीन नहीं हो रहा था की फोन के दूसरी तरफ की आवाज़ सच है या झूठ.

25 सालों बाद एक हत्यारा खुद थाने फोन कर अपने द्वारा किए गए गुनाह की सज़ा मांग रहा था. पुलिसिया जांच में कॉल की जांच की गई तो ये बात सामने आई की ये हत्यारा 53 साल का जॉनी ड्वाइट व्हाइट है. अब हत्यारे जॉनी की क्राइम हिस्ट्री खंगालने की बारी थी.

आख़िर क्या हुआ 25 साल पहले ?

26 अप्रैल 1995 के दिन पुलिस को एक शख्स की लाश मिली जिसके शरीर पर एक घाव का निशान था. घाव पर कीड़ें सड़ रहे थे, आसपास बदबू से बुरा हाल था, लाश के चारों ओर मक्खियां भिन भिना रही थी. पहली नज़र में देखने से लगा रहा था की इसी एक घाव की वजह से इस शख्स की मौत हुई है.

जांच करने पर ये बात सामने आई की ये कोई मामूली घाव नहीं बल्कि गोली लगने की वजह से इस जख़्म का ऐसा हाल है. गहराई से तहकीकात करने पर पता चला कि क्रिस्टोफर एल्विन डेली की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. यहीं से शुरु हुई इस हत्या को सुलझाने के लिए पुलिसिया तफ्तीश.

जहां जांच में पुलिस को क्रिस्टोफर की कार नदी में डूबी हुई भी मिली. लेकिन पूरे केस में सबसे हैरानी की बात ये कि काफी जद्दोजहद करने के बाद भी पुलिस के हाथों कुछ नहीं लगा. ना कोई सबूत और ना ही कोई हत्यारा. मानो ये एक परफेक्ट क्राइम हो.

लेकिन फिर अचानक पुलिस को 25 साल बाद एक कॉल आई तो उन्हें पहली बार में विश्वास नहीं हुआ की जिसे पुलिस कई सालों से तलाश रही थी. वो हत्यारे पुलिस को खुद अपने द्वारा दिए जुर्म की कहानी बता रहा है .

तहकीकात में ये बात सामने आई की जॉनी ड्वाइट व्हाइट कि मानसिक स्थित सही नहीं है.वो एक लाइलाज बीमारी से जूझ रहा है और जब जॉनी को अपने बीमारी के बारे में पता चला तो वो मरने से पहले अपने किए गए कुर्कमों का पश्चताप करने के लिए पुलिस को फोन कर अपने गुनाह का कबुलनाम किया. फिलहाल जॉनी ड्वाइट व्हाइट पुलिस के हिरासत में है.

loading...

Check Also

पंजाब के नए मुख्यमंत्री का भांगड़ा वाला वीडियो हुआ वायरल तो एक्ट्रेस स्वरा का यूं आया रिएक्शन

नई दिल्ली :  पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक वीडियो सोशल मीडिया ...