Saturday , July 24 2021
Breaking News
Home / क्राइम / बिहार की पैदल पुलिस: बेटे की किडनैपिंग पर थाने पहुंचे पिता तो जवाब मिला- गाड़ी रिजर्व करो, फिर चलेंगे!

बिहार की पैदल पुलिस: बेटे की किडनैपिंग पर थाने पहुंचे पिता तो जवाब मिला- गाड़ी रिजर्व करो, फिर चलेंगे!

सीवान के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र से गज़ब मामला सामने आया है। एक कोचिंग टीचर ने अपने स्टूडेंट का ही अपहरण कर लिया। उसने तो अपराध किया ही, इस मामले में पुलिस की बड़ी संवेदनहीनता भी सामने आई है। नाबालिग के पिता ने आरोप लगाया है कि जब वे पुलिस के पास अपनी किडनैप बेटी को खोजने की गुहार लगाने पहुंचे, तो पुलिस ने रेड के लिए गाड़ी उन्हीं से रिजर्व करवा ली। इसके बाद दल-बल के साथ पुलिस आरोपियों के घर छापेमारी के लिए पहुंची।

बीते 23 जून को सीवान के भगवानपुरहाट थाना इलाके के कली टोला सुघरी से नाबालिग छात्रा का किडनैप हुआ था। पुलिस ने इस मामले में कोचिंग में टीचर के पिता बबन तिवारी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 7 आरोपी मौके से फरार हैं।

गाड़ी रिजर्व करो तो चलते हैं…

नाबालिग स्टूडेंट के पिता टुनटुन गिरि ने भगवानपुर हाट थाने की पुलिस पर आरोप लगाया है कि मामले की छानबीन के लिए पुलिस ने गाड़ी रिजर्व करने को कहा। पुलिस ने कहा कि गाड़ी करो, तभी चलेंगे। इसके बाद गाड़ी रिजर्व की गई, जिससे पुलिस गोपालगंज के सिधवलिया थाना क्षेत्र गई।

पुलिस दल-बल लेकर जलालपुर खुर्द गांव गई। आरोपी मुकेश कुमार के लिए पुलिस छापेमारी करने पहुंची। घर पर वह नहीं मिला, तो उसी गांव के मुख्य आरोपी शिक्षक चंद्रकांत तिवारी के घर से उसके पिता बबन तिवारी को गिरफ्तार कर लिया। फिर पुलिस बसंतपुर थाना के उसरी गांव पहुंची, जहां एक अन्य आरोपी नीतीश कुमार के घर गए। ड्राइवर से पूछताछ करने के बाद पता चला कि बलथरा के वीरेंद्र सिंह की पत्नी ने फोन करके बुलाया था। फिर पुलिस उस ड्राइवर के साथ उस महिला के घर गयी और पूछताछ करके लौट गई।

8 आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज

टुनटुन गिरी ने थाने में आवेदन देकर 8 लोगों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कराया है। आवेदन में उन्होंने कहा है कि गांव में ही संचालित होने वाले एकलव्य पॉइंट कोचिंग के संचालक चंद्रकांत तिवारी उर्फ सीके सुमन के पास उनकी 12 वर्षीय पुत्री स्वाति कुमारी 23 जून की सुबह 10 बजे पढ़ने गई थी। यहां से कोचिंग संचालक और उसके 3 साथी बहला-फुसलाकर बलही बाजार लेकर गए, जहां पहले से उसके 4 अन्य साथी चार पहिया वाहन से इंतजार कर रहे थे। बेटी जैसे ही वहां पहुंची तो ये सभी लोग उसे अपहरण की नीयत से गाड़ी में लेकर चले गए।

loading...

Check Also

वैक्सीन लगाने को लेकर आपस में भिड़ गईं महिलाएं, जमकर हुई मारपीट, वीडियो वायरल

खरगोन एमपी के खरगोन जिले में वैक्सीन को लेकर जबरदस्त मारामारी (People Crowd For Vaccine) ...