Monday , October 18 2021
Breaking News
Home / खबर / गुजरात में मानसून: 21 दिनों में 43 फीसदी बारिश, आज इन जिलों में होगी मूसलाधार बरसात

गुजरात में मानसून: 21 दिनों में 43 फीसदी बारिश, आज इन जिलों में होगी मूसलाधार बरसात

अहमदाबाद. प्रदेश में अब तक मौसम की हो चुकी 642 मिलीमीटर (करीब 26 इंच) औसत बारिश में से 43 फीसदी से अधिक सितम्बर माह के 21 दिनों में ही हो चुकी है। पिछले दस वर्षों में संभवत: यह सबसे अधिक है। सितम्बर माह के 21 दिनों में राज्य में 280 मिलीमीटर बरसात हो चुकी है।

प्रदेश में पिछले 30 वर्षों में हुई बारिश का प्रतिवर्ष औसत 840 मिलीमीटर रहा है। इसकी तुलना में इस वर्ष 642 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है, जो मौसम की कुल 76.44 फीसदी है। सितम्बर माह के 21 दिनों में ही 280 मिलीमीटर बारिश हो गई। यह अब तक हुई बारिश का 43.61 फीसदी है। राज्य में पिछले दस वर्षों में सितम्बर माह के दौरान यह सबसे अधिक है। इस वर्ष सबसे कम 65 मिलीमीटर (लगभग ढाई इंच) बारिश अगस्त माह में हुई है। जबकि जून माह में 120 मिलीमीटर और जुलाई में 176 मिलीमीटर बारिश हुई है।

अभी भी भारी बारिश की चेतावनी
गांधीनगर में मंगलवार को आयोजित हुई वेदर वॉच ग्रुप की बैठक मे मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि बुधवार को भी पंचमहाल, छोटा उदेपुर एंंव वडोदरा में भारी से अतिभारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा राजकोट, जूनागढ़, गिरसोमनाथ, भावनगर, बोटाद, अहमदाबाद, खेड़ा, आणंद, महिसागर, दाहोद, भरुच, नर्मदा जिलों में भी भारी बारिश संभव है।

एनडीआरएफ की 20 में से 18 टीमें तैनात
भारी बारिश की संभावना को ध्यान में रखकर राज्य में एनडीआरएफ की 20 टीमों में से 18 को विविध जगहों पर राहत बचाव के लिए तैनात कर दिया गया है। इनमें से राजकोट में दो, वलसाड, सूरत, नवसारी, गिरसोमनाथ, अमरेली, भावनगर, जूनागढ़, जानगर, पाटण, मोरबी, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर, खेड़ा, पंचमहाल एवं गांधीनगर में एक-एक टीम तैनात की गई है। जबकि एसडीआरएफ की भी 11 में से आठ टीम विविध भागों में तैनात की गई हैं।

206 बांधों में क्षमता का 75 और नर्मदा में 56 फीसदी जल संग्रह
वैदर वॉच ग्रुप की बैठक में बताया गया है कि राज्य के प्रमुख 206 बांधों में क्षमता की तुलना में 75.6 फीसदी और सरदार सरोवर (नर्मदा) बांध में 55.89 फीसदी जल संग्रह हो चुका है। फिलहाल राज्य के 80 बांधों में 90 से 100 फीसदी तक जल संग्रह हो चुका है, इनमें से 79 बांध हाईअलर्ट पर हैं। इसके अलावा 12 बांधों में क्षमता के मुकाबले 80 से 90 फीसदी संग्रह होने पर अलर्ट और 12 में 70 से 80 फीसदी तक जल संग्रह होने पर चेतावनी दी गई है।

83.84 लाख हेक्टेयर में बुवाई
गुजरात में इस वर्ष 83.84 लाख हेक्टेयर जमीन में खरीफ की बुवाई हुई है। हालांकि यह बुवाई पिछले वर्षों की तुलना में कम है। गत वर्ष इस अवधि में 85.83 लाख हेक्टेयर में बुवाई हुई थी। पिछले तीन वर्षों के मुकाबले इस वर्ष 98.01 फीसदी बुवाई हो पाई है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...