गुजरात विधानसभा चुनाव 202: एक्शन मोड में राज्य चुनाव प्रणाली, विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की

0
10

गुजरात विधानसभा चुनाव ( गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 ) और भारत के चुनाव आयोग (चुनाव आयोग) की तैयारियों की समीक्षा करने के लिएराज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी पी. भारती ने प्रदेश के सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस कर हाल ही में मतदाताओं द्वारा लिए गए महत्वपूर्ण निर्णयों को लागू करने के लिए आवश्यक मार्गदर्शन दिया. चुनाव के समय बूथ स्तर के अधिकारी (बीएलओ) की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। यह देखते हुए कि मतदाता सूची में मतदाताओं के नाम शामिल करके और मृत मतदाताओं के नाम को कम करके मतदाता सूची को अद्यतन करने में बीएलओ महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों से बीएलओ को सक्रिय करने और मतदाता पंजीकरण प्रक्रिया की जल्द से जल्द समीक्षा करने का आग्रह किया। जितना संभव हो.. बीएलओ के लिए तैयार किए गए प्रशिक्षण मॉड्यूल और तदनुसार प्रशिक्षण आयोजित करने पर विशेष जोर दिया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारियों को 15 जुलाई से मतदान के लिए इस्तेमाल की जाने वाली ईवीएम मशीनों का प्रथम चरण का निरीक्षण शुरू करने और जिस गोदाम में ईवीएम मशीनें रखी गई हैं, वहां पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की जांच करने के लिए भी कहा गया है. भारत निर्वाचन आयोग ने हाल ही में मतदाता प्रपत्र में कुछ संशोधन किए हैं। इसे देखते हुए मतदाता जागरूकता एवं प्रशिक्षण (स्वीप) गतिविधियों में इसे शामिल कर नागरिकों को इसके बारे में जागरूक करने तथा जिन महाविद्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों में मतदाता साक्षरता क्लब (ईएलसी) नहीं है, उन्हें क्रियाशील बनाने का विशेष अनुरोध किया गया।

सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों से कहा गया है कि वे विधानसभा क्षेत्रों में स्थापित किए जा रहे मतदान केंद्रों को युक्तिसंगत बनाने के लिए मतदान केंद्रों का दौरा करें ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि मतदाताओं को बुनियादी सुविधाएं मिलें और साथ ही यह देखने के लिए कि मतदान केंद्र पंक्तिबद्ध और सुविधाजनक हैं. मतदाताओं से घर पर मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज कराने और वाटर हेल्पलाइन ऐप को डाउनलोड करने और उपयोग करने में सक्षम बनाकर मतदाताओं तक पहुंचने के लिए विशेष प्रयास करने के लिए सोशल मीडिया और अन्य प्लेटफार्मों का उपयोग करने का आग्रह किया गया।

वीडियो कांफ्रेंस में निर्वाचन प्रमंडल के पदाधिकारियों ने जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा चुनाव पूर्व नियोजन के साथ ही मतदाता जागरूकता एवं प्रशिक्षण के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया. वीडियो कांफ्रेंस में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री आरके पटेल, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अजय भट्ट, अपर कलेक्टर सुश्री दर्शना रैंक सहित प्रदेश के समस्त जिला कलेक्टर एवं निर्वाचन अधिकारी उपस्थित थे।