Monday , October 18 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / गोरखपुर. : मनीष गुप्ता के बाद मनीष प्रजापति की सरेआम हत्या, फ्री में शराब न पिलाने पर पीट-पीट कर मार डाला

गोरखपुर. : मनीष गुप्ता के बाद मनीष प्रजापति की सरेआम हत्या, फ्री में शराब न पिलाने पर पीट-पीट कर मार डाला

मनीष प्रजापति मॉडल शॉप पर कैंटीन कर्मचारी के रूप में काम करता था

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में कानपुर के प्रापर्टी डीलर मनीष गुप्ता हत्याकांड के 72 घंटे के भीतर एक और दिल दहला देने वाली घटना सामने आ गई। जिस रामगढ़ताल थाने की पुलिस ने मनीष गुप्ता को पीटकर मारा डाला, उसी थाने से महज 200 मीटर दूर स्थित अब मॉडल शॉप कर्मचारी की मनबढ़ों ने पीटकर हत्या कर डाली। जबकि दूसरा गंभीर रुप से घायल है।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं, देश भर में चर्चा का विषय बने मनीष गुप्ता हत्याकांड शहर में दूसरी इस घटना से एक बार फिर हड़कंप मच गया।

सार्थियों संग पहुंचा हिस्ट्रीशीटर
वहीं, सरेआम हुई गुंडागर्दी के से इलाके के लोग दहशत में हैं। जबकि पिटाई करने वाले आरोपितों की तस्वीर भी सीसी टीवी में कैद हो गई है। महराजगंज के रहने वाले नागेन्द्र प्रताप सिंह का रामगढ़ताल इलाके में वरदायनी के पास मॉडल शॉप है। उनका बेटा मनीष सिंह इसका संचालन करते हैं। मध्य प्रदेश के रिवा जिला के पनगढ़ी निवसी श्रवण प्रजापति का 25 साल का बेटा मनीष प्रजापति मॉडल शॉप पर कैंटीन कर्मचारी के रूप में काम करता था। आरोप है कि कोतवाली इलाके का हिस्ट्रीशीटर अपने साथियों के साथ पहुंचा है।

हिस्ट्रीशीटर का नाम बता शराब मांग रहे थे मनबढ़
ऑडर लेने आए कर्मचारी से उन्होंने शराब लाने के लिए कहा है। कैंटीन कर्मचारी ने पैसा मांगा। बताया कि बिना पैसे का शराब नहीं मिलेगा। इससे नाराज होकर एक युवक ने हिस्ट्रीशीटर का नाम लेकर कहा है इन्हें जानते नहीं है। बात बढ़ने के बाद आरोपित बवाल करने लगे। कर्मचारी छिपने के लिए मॉडल के अंदर चला गया तो मनबढ़ों ने मॉडल शॉप में अंदर घुसकर कर्मचारी मनीष प्रजापति को हॉकी और डंडा से पीटना शुरू कर दिया। बचाने गए उसके साथी बहराइच के हुजूरपुर इलाके स्थित पातोपुर निवासी रघु की भी मनबढ़ों ने पिटाई कर दी।

जान बचाकर भागे कर्मचारी
वहीं, अन्य वेटर व कर्मचारी जान बचाकर भागने लगे। उनके आतंक से मॉडल शॉप में काम करने वाले अन्य वेटर या कर्मचारी उन्हें बचाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। पिटाई कर वह आराम से चले गए। दोनों घायलों को पास के एक हास्पिटल में ले जाया गया जहां हालत गंभीर होने पर मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। मेडिकल कालेज ले जाने में मनीष प्रजापति की मौत हो गई। जबकि रघु का इलाज चल रहा है। उधर, आरोपितों की तलाश में पुलिस टीम जुट गई है। पूरी घटना सीसी टीवी में कैद है। उधर, सूचना के बाद मौके पर एडीजी अखिल कुमार और डीआईजी जे रवीन्द्र गौड़ तथा कैंट और रामगढ़ ताल पुलिस पहुंची गई है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...