Monday , October 18 2021
Breaking News
Home / खबर / चंद्रमा धरती से धीरे-धीरे होता जा रहा है दूर, वैज्ञानिकों को सता रहा प्रलय का डर

चंद्रमा धरती से धीरे-धीरे होता जा रहा है दूर, वैज्ञानिकों को सता रहा प्रलय का डर

वॉशिंगटन (ईएमएस)। चंद्रमा हमारी धरती से धीरे-धीरे दूर जा रहा है। चंद्रमा के 4.5 बिलियन सालों की जिंदगी में यह धीरे-धीरे जा रहा है। इससे वैज्ञानिकों ने आशंका जताई है कि आने वाले समय में एक दिन पृथ्वी अस्थिर हो सकती है। इससे प्रलय आ सकता है।

हालांकि ये दावे शुरुआत से ही किए जा रहे हैं लेकिन अब कहा जा रहा है कि एक दिन चंद्रमा हमें पूरी तरह से छोड़कर जा सकता है। अगर ऐसा होता है तो इसका बेहद बुरा असर पृथ्वी पर पड़ेगा। जानकारी के मुताबिक चंद्रमा के दूर जाने से हमारी जिंदी के हर पहलू में प्रलय आ जाएगा। पृथ्वी और चंद्रमा के बीच गुरुत्वाकर्षण संबंध के प्रभावित होने का असर समुद्र, सूर्य, स्तनधारियों, पेड़-पौधों की जिंदगी और कई चीजों पर पड़ेगा। एक्सप्रेस की रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है। फिलहाल चंद्रमा पृथ्वी से 384,400 किमी की दूरी पर स्थित है। अंतरिक्ष यात्री इस दूरी को पृथ्वी से चंद्रमा पर लेजर फायर कर मापते हैं। लेजर के वापस पृथ्वी पर लौटने के समय की गणना कर दोनों के बीच दूरी का अंदाजा लगाया जा सकता है।

कुछ विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि समय के साथ चंद्रमा पृथ्वी के नजदीक आ सकता है। जिसके परिणामस्वरूप गुरुत्वाकर्षण इसे पूरी तरह से नष्ट कर देगा। वैज्ञानिकों का मानना है कि यह विचार चंद्रमा के बिल्कुल विपरीत है, जिसमें आज पूरी तरह से चुंबकीय क्षेत्र का अभाव है। 1980 के दशक में, अपोलो अंतरिक्ष यात्रियों द्वारा लाई गई चट्टानों का अध्ययन करने वाले भूभौतिकीविदों ने निष्कर्ष निकाला कि चंद्रमा में एक बार एक चुंबकीय क्षेत्र था जो पृथ्वी के समान मजबूत था।पृथ्वी के चारों ओर एक शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र है जो ग्रह के मूल में मौजूद तरल लोहे के घूमने से बना है। पृथ्वी का चुंबकीय क्षेत्र लगभग पृथ्वी जितना ही पुराना हो सकता है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...