चेक बाउंस और चोरी में भगौड़ा घोषित बदमाश गिरफ्तार

नई दिल्ली, 25 जून (हि.स.)। चेक बाउंस और चोरी के मामले में फरार दो आरोपितों को रनहौला थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान कांति स्वरूप और सोहन लाल के रूप में हुई है। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर जानने की कोशिश कर रही है कि वह कहां और किस किस जगह पर रहा। उसकी किस- किसने सहायता की थी।

डीसीपी समीर शर्मा ने शनिवार को बताया कि पूजा फिनलीज लिमिटेड बनाम कांति स्वरूप के मामले माननीय द्वारका न्यायालय दिल्ली में एक सीसी संख्या 1436/2018, यू/एस 138 एनआई अधिनियम दर्ज किया गया था, जिसमें आरोपित कांति स्वरूप अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार था। बीते 26 मई 2022 को द्वारका कोर्ट से आरोपित को भगौड़ा घोषित किया था।

उससे पहले पुलिस उसको पकडऩे के लिये उसके कई ठिकानों पर छापेमारी कर चुकी थी। लेकिन वह ठिकाना बदल लिया करता था। रनहौला थाने में तैनात हेड कांस्टेबल देवेन्द्र अैर अमित दिल्ली में भगौड़ा घोषित आरोपितों की तलाश कर रहे थे। जिसमें कांति स्वरूप में बारे में भी पता चला था। इस बीच उनको सूचना मिली कि कांति स्वरूप इंप्रस्थ कॉलोनी बुराड़ी इलाके में है।

पुलिस टीम ने तुरंत मौके पर घेराबंदी कर उसे मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया। जबकि नांगलोई पुलिस ने जिस सोहन लाल को गिरफ्तार किया है। 2010 में आईजीआई एयरपोर्ट पर हुए एक चोरी के मामले में फरार था। आठ अक्टूबर 2014 में पटियाला कोर्ट में उसे भगौड़ा घोषित कर दिया था। एसीपी एम के मीणा की देखरेख में एसएचओ प्रभू दयाल के निर्देशन में हेड कांस्टेबल जसवीर सिंह और कांस्टेबल रोहताश ऐसे बदमाशों की धड़पकड़ की कोशिश कर रहे थे। जिनको एक पुख्ता सूचना के बाद आरोपित को औचंदी बॉर्डर से गिरफ्तार कर लिया।