Sunday , September 26 2021
Breaking News
Home / खबर / जल्द ही खुलने वाला है LIC का IPO, जानिए इसके बारे में सबकुछ

जल्द ही खुलने वाला है LIC का IPO, जानिए इसके बारे में सबकुछ

हर स्थापित कम्पनी को एक समय के बाद पैसों की आवश्यकता होती है। प्राइवेट लिमिटेड होने का नुकसान यह है कि कम्पनी को पैसों के लिए अपने निवेशकों पर निर्भर रहना पड़ता है, इसलिए वह प्राइवेट से पब्लिक होकर स्टॉक मार्केट में आता है। स्टॉक मार्केट में आने से आपके शेयर के बदले आपको पैसा मिलता रहेगा और आप कम्पनी चला सकते हैं। इसी कड़ी में अब लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (LIC) भी अपनी इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) खोलने की योजना बना रहा है, जोकि रिपोर्ट्स के अनुसार वित्त वर्ष 2021- 2022 की दूसरी छमाही में होने की संभावना है।

यह IPO देश में अबतक का सबसे बड़ा IPO बनने के लिए तैयार है क्योंकि भारत सरकार को एलआईसी में अपनी हिस्सेदारी बिक्री से लगभग 80,000 करोड़ रुपये से 90,000 करोड़ रुपये जुटाने की उम्मीद है। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, यह मार्च 2022 में समाप्त होने वाले चालू वित्त वर्ष में निजीकरण कार्यक्रम से 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने की सरकार की योजना का हिस्सा है। एलआईसी भारत की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है जिसके पास 34 लाख करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति है। LIC कुछ अन्य नामों से बहरीन, केन्या, श्रीलंका, नेपाल, सिंगापुर, सऊदी अरब और बांग्लादेश में भी सक्रिय कम्पनी है।

भारत सरकार ने LIC IPO को संभालने के लिए गोल्डमैन सैक्स, सिटीग्रुप और एसबीआई कैपिटल मार्केट सहित लगभग 10 निवेश बैंकों को भी शामिल किया है। यह भी संभावना है कि बेची जाने वाली हिस्सेदारी का आकार एलआईसी में उसकी हिस्सेदारी के 10 प्रतिशत से अधिक नहीं होगा। सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त प्रयास कर रही है कि वह खुदरा निवेशकों के साथ-साथ कंपनी और सरकारी कर्मचारियों को आईपीओ में भाग लेने के लिए आकर्षित करे।

बीमा शेयरों ने हाल के वर्षों में जबरदस्त प्रदर्शन किया है। अकेले SBI लाइफ उन चार बीमा कंपनियों में शामिल थी, जिनके आईपीओ ने 2017 में $ 1 बिलियन से अधिक जुटाए थे। इसी कारण इसकी लिस्टिंग की जा रही है। LIC IPO सबसे बड़ा IPO होगा, आईपीओ का संभावित आकार भारतीय बाजारों में सबसे बड़ा होने की उम्मीद है। निवेशकों की मानें तो इस IPO की कीमत सऊदी अरामको से ज्यादा होगी, जिसने दिसंबर में दुनिया की सबसे बड़ी IPO में लगभग 25 बिलियन डॉलर जुटाए, और माइक्रोसॉफ्ट कॉर्प और ऐप्पल इंक को सबसे मूल्यवान कंपनी के रूप में पछाड़ दिया था।

मुंबई में आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज लिमिटेड की एक विश्लेषक काजल गांधी ने कहा, “यह लिस्टिंग के दिन बाजार मूल्य के हिसाब से भारत की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी, क्योंकि यह प्रबंधन के तहत संपत्ति की सबसे बड़ी कंपनी है।” यहां तक ​​​​कि 10% शेयर पर भी बाजार में पैसा आना तय है।”

LIC बहुत बड़ी कम्पनी है। देश की बड़ी-बड़ी कम्पनियों के स्टॉक LIC के पास हैं। भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (BHEL) और लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड (L&T) सहित कई सार्वजनिक फर्मों में इसका दो अंकों का हिस्सा है, जो सामूहिक रूप से $ 80 बिलियन से अधिक मूल्य के हैं। पिछले साल LIC ने 51% हिस्सेदारी खरीदकर IDBI बैंक बेलआउट कराया था।

निवेशक LIC के मेगा पब्लिक ऑफर का इंतजार कर रहे हैं, ऐसे में एलआईसी पॉलिसीधारक जिन्होंने 28.9 करोड़ से अधिक पॉलिसी खरीदी हैं, उन्हें भी अब उत्साहित होने का कारण मिल गया है। सरकार ने कहा है कि आईपीओ में इश्यू साइज का 10% तक एलआईसी पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित होगा और उन्हें फ्लोर प्राइस में छूट मिल सकती है। यानी पॉलिसी धारकों को पास अब पैसा ही पैसा होगा!

loading...

Check Also

कानपुर : आपसे लक्ष्मी माता है नाराज, शिक्षिका से लाखों रुपए की टप्पेबाजी कर फरार हुए शातिर

तीन थानों की पुलिस फोर्स संग मौके पर पहुंचे एडीसीपी कानपुर  । शहर के सीसामाऊ ...