Friday , July 30 2021
Breaking News
Home / खबर / ताजा आंकड़े: बिहार में 330 लोग कोरोना से जंग जीते, जांच घटी तो नए केस भी घटे

ताजा आंकड़े: बिहार में 330 लोग कोरोना से जंग जीते, जांच घटी तो नए केस भी घटे

पटना. लॉकडाउन ने कोरोना को पूरी तरह से कमजोर कर दिया है। अब संक्रमण की दर घटने के साथ रिकवरी का रेट बढ़ गया है। संक्रमित होने वाले 7 से 10 दिन में पूरी तरह से स्वस्थ्य हो जा रहे हैं। 24 घंटे में 330 लोगों ने कोरोना को मात दिया है जो नए संक्रमण के मामले 169 से लगभग दो गुना अधिक है। अब तक बिहार में 709908 लोगों ने कोरोना को मात दी है। मौत का तांडव करने वाला कोरोना मात खा रहा है। बिहार में 24 घंटे में मात्र 4 गंभीर मरीजों की मौत हुई है जबकि पटना में लगातार तीन दिनों से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है।

घटा दी गई कोरोना की जांच

बिहार में कोरोना की जांच घटा दी गई है। 28 जून को मात्र 84999 लोगों की जांच की गई है। एक लाख से अधिक जांच हो रही थी लेकिन 28 जून को यह संख्या अचानक से घट गई है। 7 दिन पहले भी जांच की संख्या घटाई गई थी। कोरोना के संक्रमण पर अंकुश लगाने को लेकर अधिक से अधिक लोगों की जांच जरूरी है। लेकिन संक्रमण की रफ्तार बिहार में काफी कम हो गई है, इस कारण से जांच भी घटाई जा रही है।

पिछले 7 दिनों में जांच का आंकड़ा

  • 28 जून – 84999
  • 27 जून – 100021
  • 26 जून – 103074
  • 25 जून – 108698
  • 24 जून – 107167
  • 23 जून – 106652
  • 22 जून – 106644
  • 21 जून – 86154

पटना में कोरोना से बड़ी राहत

पटना में कोरोना से बड़ी राहत है। लगातार 3 दिनों से एक भी मौत नहीं हुई है। पटना में एक्टिव मरीजों की संख्या 293 है लेकिन एक भी मरीज 3 दिन से कोरोना से नहीं हारा है। कोरोना को मात देने वालों की संख्या ही बढ़ रही है। 28 जून को 169 नए मामले आए हैं। पटना में अब तक कुल संक्रमण के मामले 146289 है जबकि कोरोना को मात देने वालों की संख्या 143674 है। कोरोना ने 2322 लोगों की जान ली है। 28 जून को पटना में एक भी मौत नहीं हुई है। 25 जून को 2 मौत हुई थी इसके बाद से एक भी मौत नहीं हुई है। मरीज कोरोना को मात देकर स्वस्थ्य हो रहे है। अस्पताल में भी भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या लगातार घट रही है। मौत ऐसे ही मरीजों की हो रही है जो कोरोना के संक्रमण के साथ पहले से गंभीर बीमारियों के जाल में फंसे थे। हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि अब संक्रमण की पकड़ कमजोर हुई है। इसका बड़ा कारण लॉकडाउन रहा है। वायरस का रोटेशन नहीं होने के कारण वह पूरी तरह से कमजोर पड़ गया है लेकिन अगर थोड़ी भी लापरवाही हुई तो यह फिर तेजी से बढ़ सकता है।

बिहार में अब 1972 एक्टिव मामले

बिहार में तेजी से घट रही संक्रमितों की संख्या बड़ी राहत की बात है। 28 जून को 169 नए मामलों के साथ अब तक राज्य में कुल 721464 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना को मात देने यानी संक्रमण से मुक्त होने वालों की संख्या 709908 हो गई है। बिहार में कोरोना से जंग हारने यानी मरने वालों की संख्या 9583 हो गई है जिसमें 28 जून को हुई 4 लोगों की मौत शामिल है। एक्टिव मामलों की संख्या 1972 होने से अब रिकवरी रेट 98.40% हो गया है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का कहना है कि कोरोना के संक्रमण का मामला कम हो रहा है। वह 24 घंटे में 330 मरीजों के कोरोना मुक्त होने को राहत की बात बता रहे हैं।

नए संक्रमण के टॉप 5 जिले

  • सारण – 25
  • पटना – 19
  • पूर्णिया – 11
  • समस्तीपुर – 11
  • मुंगेर – 9

7 जिलों में एक एक नए मामले

बिहार के 7 जिले ऐसे हैं जहां एक एक नए मामले आए हैं। इसमें औरंगाबाद, बांका, भोजपुर, जमुई और शिवहर जिला शामिल है। वहीं 5 जिले ऐसे हैं जहां मात्र दो-दो नए मामले आए हैं। 3 जिले ऐसे भी हैं जहां तीन तीन नए मामले आए हैं। 4 जिलों को छोड़ सभी जिलों में नए संक्रमण के मामले 10 से कम हैं।

loading...

Check Also

कोरोना ने अरमानों पर फेरा पानी : दूल्हा तीन बार निकला संक्रमित, बिना दुल्हन लौटी बारात

पीलीभीत से उत्तराखंड जा रही एक बारात को बगैर दुल्हन के ही बॉर्डर से लौटना ...