Sunday , September 26 2021
Breaking News
Home / खबर / जानिए कैसे जाते-जाते तालिबानियों के ‘अरबों डॉलर के सपने’ को ख़ाक कर गई अमेरिकी सेना

जानिए कैसे जाते-जाते तालिबानियों के ‘अरबों डॉलर के सपने’ को ख़ाक कर गई अमेरिकी सेना

अफगानिस्तान छोड़ने से पहले अमेरिकी सेना अपने अरबों डॉलर के हथियार और जंगी जहाज़ों को बर्बाद कर गए, तालिबान को उम्मीद थी कि अमेरिका के जाने के बाद उसके बेस से उसे दुनिया के सबसे हाईटेक हथियार मिलेंगे लेकिन उसके सारे सपने तो अमेरिका जाने से पहले ही खाक कर गया था। इनमें सभी मिलिट्री उपकरण, वाहन और ज़रूरी कागजात शामिल हैं।

‘ईगल’ नाम का सीआईए का ये कैंप काबुल के देह सब इलाके में स्थित है। अमेरिकी खुफिया अफसर और अफगान की एनडीएस 01 फोर्सेज यहां पर तैनात थीं। अब ये इलाका तालिबान के कब्जे में है। अमेरिकी सेना ने जरूरी कागजात, सैकड़ों हम्वीज, सैन्य टैंक और हथियारों को नष्टकर दिया था। कैंप के कमांडर मौलवी अथनैन ने कहा कि उन्होंने यहां से वे सबकुछ नष्ट कर दिया जो इस्तेमाल हो सकता था।

इस बीच अभी तालिबान ने इस कैंप के कई कमरों में प्रवेश नहीं किया है। उन्हें डर है कि यहां पर माइन्स बिछी हो सकती हैं। गौरतलब है कि 31 अगस्त की सुबह अमेरिकी सेना ने अफगानिस्तान छोड़ दिया था।

20 साल तक चले लंबे युद्ध के बाद अमेरिकियों के यहां से जाने के बाद फिलहाल अफगानिस्तान बदहाल है। अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड जे ऑस्टिन-3 ने कहा कि वॉशिंगटन ने अफगानिस्तान से 6000 अमेरिकी नागरिकों निकाला है। यहां से उसने कुल 124000 नागरिकों को निकाला है।

loading...

Check Also

कानपुर : आपसे लक्ष्मी माता है नाराज, शिक्षिका से लाखों रुपए की टप्पेबाजी कर फरार हुए शातिर

तीन थानों की पुलिस फोर्स संग मौके पर पहुंचे एडीसीपी कानपुर  । शहर के सीसामाऊ ...