Monday , October 18 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / UP विधानसभा चुनाव के लिए कई टिकट फाइनल किए अखिलेश, जानें किनसे तैयारी करने को कहा?

UP विधानसभा चुनाव के लिए कई टिकट फाइनल किए अखिलेश, जानें किनसे तैयारी करने को कहा?

लखनऊ. UP Assembly election 2022: अगले साल होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव को फतह करने के लिए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अब भारतीय जनता पार्टी के वोट बैंक में सेंध लगाने में जुट गए हैं। अपनी राजनातिक जमीन को और मजबूत करने के लिए वह सिर्फ अपने अनुभव ही नहीं, बल्कि प्रदेश की राजनीति के पुराने प्रयोगों को भी आजमाने की फिराक में हैं। अखिलेश का फोकस गैर यादव वोट बैंक पर टिका है। यानी जैसे बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती (Mayawati) ने एक समय पर मुस्लिम-जाटव के साथ ब्राह्मणों को भी हाथी पर सम्मानपूर्वक बैठाकर सत्ता के सिंहासन पर खुद को काबिज किया था, अखिलेश यादव भी अब अपनी साइकिल को उसी तरह बनाने में लग गए हैं।

दरअसल सपा के पास यादव-मुस्लिम का मजबूत वोटबैंक उसी तरह है, जैसे मायावती के पास मुस्लिम-जाटव वोट हुआ करता था। ऐसे में अब सपा सोशल इंजीनियरिंग के सहारे अपनी जीत पक्का करना चाहती है।
अखिलेश आगामी विधानसभा चुनाव में ब्राह्मण नेताओं को ज्यादा टिकट देकर सोशल इंजीनियरिंग (Akhilesh Yadav Social Engineering) के प्रयोग में जुट गए हैं। सपा सूत्रों के मुताबिक इस बार विधानसभा चुनाव में अच्छी संख्या में ब्राह्मण नेताओं को पार्टी प्रत्याशी बनाया जा सकता है। सपा ने अपने कई ब्राह्मण नेताओं को अपने-अपने क्षेत्र में मजबूती से तैयारियों में जुटने के लिए भी कहा गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की राजनीतिक विरासत संभाल रहे उनके बेटे अखिलेश यादव दोबारा सत्ता हासिल करने के लिए मिशन 2022 में जुट गए हैं। भाजपा सरकार पर लगातार हमलावर अखिलेश इससे पहले कांग्रेस और बसपा से गठबंधन के असफल प्रयोग भी कर चुके हैं। ऐसे में अब वह अपनी पार्टी की ताकत बढ़ाने में लगे हैं।

अखिलेश यादव यह समझ चुके हैं कि सवर्णों के बेस वोट के साथ अनुसूचित और पिछड़ों में बड़ी सेंध लगाकर भाजपा मजबूत हुई है। वहीं इस समय भाजपा सरकार से ब्राह्मणों की नाराजगी के प्रदेश में खूब चर्चे हो रहे हैं। ऐसे में सपा अध्यक्ष की नजर ब्राह्मण नेताओं पर जा टिकी है।

जानकारी के मुताबिक कई ब्राह्मण नेता को सपा साइकिल की सवारी कराने को तैयार है। सपा सूत्रों के मुताबिक इस बार विधानसभा चुनाव में अच्छी संख्या में ब्राह्मण नेताओं को पार्टी प्रत्याशी बनाया जा सकता है। सपा ने अपने कई ब्राह्मण नेताओं को अपने-अपने क्षेत्र में मजबूती से जुटने के लिए भी कहा गया है।

सपा ये भी मान रही है कि कोरोना की महामारी ने व्यापार को भी काफी चौपट किया है। सरकार से इस वर्ग की भी नाराजगी है। ऐसे में ब्राह्मणों के साथ ही वैश्य को भी आसानी से अपने पाले में खींचा जा सकता है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...