Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / खबर / ट्रैजेडी किंग की ट्रैजेडी: क्या हुआ था 1972 की उस काली रात, जो ताउम्र बेऔलाद रहे दिलीप कुमार?

ट्रैजेडी किंग की ट्रैजेडी: क्या हुआ था 1972 की उस काली रात, जो ताउम्र बेऔलाद रहे दिलीप कुमार?

कामिनी कौशल, मधुबाला के बाद सायरा दिलीप कुमार की लाइफ में आईं। दोनों की लव स्टोरी शादी के अंजाम तक तो पहुंच गई, लेकिन इनके माता-पिता बनने का सपना अधूरा रह गया। ऐसा क्यों हुआ इसका खुलासा दिलीप कुमार ने अपनी ऑटो बायोग्राफी ‘द सबस्टांस एंड द शैडो’ में किया था। ​​​​​​इसमें बताया गया है कि दिलीप-सायरा ताउम्र माता-पिता क्यों नहीं बन सके।

और फिर कभी मां-बाप नहीं बन सके दिलीप-सायरा
ऑटो बायोग्राफी में दिलीप कुमार ने बताया था, ‘सच्चाई यह है कि 1972 में सायरा पहली बार प्रेग्नेंट हुईं। यह बेटा था (हमें बाद में पता चला)। 8 महीने की प्रेग्नेंसी में सायरा को ब्लड प्रेशर की शिकायत हुई। इस दौरान पूर्ण रूप से विकसित हो चुके भ्रूण को बचाने के लिए सर्जरी करना संभव नहीं था और दम घुटने से बच्चे की मौत हो गई।’ दिलीप कुमार की मानें तो इस घटना के बाद सायरा कभी प्रेग्नेंट नहीं हो सकीं।

 

शाहरुख को मानते थे बेटे की तरह
एक इंटरव्यू में सायरा बानो ने शाहरुख के साथ अपनी पहली मुलाकात के बारे में बात की थी। सायरा बताती हैं कि दिलीप कुमार फिल्म ‘दिल आशना है’ के मुहूर्त के लिए गए थे, जिसके लिए शाहरुख को साइन किया गया था। दिलीप-शाहरुख की पहली मुलाकात के बारे में सायरा ने कहा था कि उन्हें लगता है कि दोनों कई मायनों में एक जैसे हैं। उन्होंने कहा, ‘दिलीप साहब ने औपचारिक ताली बजाई। मैंने हमेशा कहा है कि अगर हमारा बेटा होता, तो वह शाहरुख की तरह दिखता।’

loading...

Check Also

पंजाब के नए मुख्यमंत्री का भांगड़ा वाला वीडियो हुआ वायरल तो एक्ट्रेस स्वरा का यूं आया रिएक्शन

नई दिल्ली :  पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक वीडियो सोशल मीडिया ...