ज्योतिष: कुंडली में चंद्रमा के कमजोर होने पर दिखते हैं ऐसे संकेत, आजमाएं यह उपाय होगा फायदेमंद

ज्योतिष में नौ ग्रहों का विशेष महत्व माना गया है। ग्रहों की स्थिति भी व्यक्ति के स्वभाव और जीवन को प्रभावित करती है। चंद्रमा को भी नौ प्रमुख ग्रहों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि कुंडली में चंद्रमा कमजोर होने पर जातक मानसिक रूप से काफी कमजोर हो जाता है। बहुत भावुक हो जाता है। भावनाओं के मामले में वह गलत निर्णय लेता है, जिससे जीवन में कई समस्याएं आ सकती हैं। चंद्रमा व्यक्ति के प्रेम जीवन को भी प्रभावित करता है। इसके अलावा चंद्रमा से कई तरह की बीमारियां भी होने की संभावना है।

जब चंद्रमा कमजोर होता है, तो लोग अक्सर खांसी, जुकाम, अस्थमा और फेफड़ों से संबंधित अन्य समस्याओं से पीड़ित होते हैं। इसके अलावा अनिद्रा, मानसिक थकान, ध्यान की कमी, तनाव, अवसाद, एकाग्रता की कमी, मधुमेह आदि समस्याएं होती हैं। अगर आपका चंद्रमा भी कमजोर है तो कुछ उपाय आपके लिए काफी कारगर हो सकते हैं।

चंद्रमा को मजबूत करने के उपाय

  1. ज्योतिषियों की सलाह पर सफेद मोती धारण करने से चंद्रमा की स्थिति मजबूत होती है। इसके अलावा हाथ में चांदी का कंगन, अंगूठी आदि धारण करने से भी चंद्रमा बलवान बनता है।
  2. चंद्रमा को बलवान बनाने के लिए महादेव की पूजा करनी चाहिए। श्रावण मास में चंद्रमा को मजबूत करने के लिए आप विशेष पूजा कर सकते हैं। इस दौरान श्रावण सोमवार से व्रत प्रारंभ करें और 10 या 54 सोमवार का व्रत करें। प्रत्येक सोमवार को महादेव का अभिषेक करें और शिव चालीसा का पाठ करें।
  3. चांदी का एक छोटा टुकड़ा घर की नींव में रखने से चंद्रमा मजबूत होता है। इसके अलावा आप जिस पलंग पर सोते हैं उसमें चांदी की कील लगा सकते हैं। इसके कई फायदे भी हैं।
  4. अपने माता-पिता की सेवा करना और उनके चरण छूकर आशीर्वाद प्राप्त करना आपके चंद्रमा और सूर्य दोनों को मजबूत करता है। शास्त्रों में माता का चंद्रमा से संबंध और पिता का सूर्य से संबंध पर विचार किया गया है।
  5. सोमवार के दिन सफेद वस्त्र धारण कर चंद्र मंत्र ओम ओम श्री श्री श्री साः चंद्राय नम का जाप करें। साथ ही किसी जरूरतमंद को घी, दही, सफेद कपड़ा, सफेद मोती, दूध या चांदी से भरा फूलदान दान करें। इससे चंद्रमा भी मजबूत होता है।