Sunday , September 26 2021
Breaking News
Home / क्राइम / बड़ा खुलासा: ऐप बैन होने के बाद पोर्न फिल्में दिखाने को ये तरीका निकाला था राज कुंद्रा!

बड़ा खुलासा: ऐप बैन होने के बाद पोर्न फिल्में दिखाने को ये तरीका निकाला था राज कुंद्रा!

राज कुंद्रा (Raj Kundra) पोर्नोग्राफी केस (Pornography Case) में मुंबई पुलिस लगातार नई कड़‍ियों को जोड़कर जांच कर रही है। मुंबई पुलिस अब इस बात की जांच में जुटी है कि कहीं राज कुंद्रा ‘हॉटशॉट्स’ ऐप (Hotshots App) के बंद होने के बाद किसी दूसरे ऐप पर तो अपने बनाए वीडियोज अपलोड नहीं करवा रहे थे। पुलिस को शक है कि राज कुंद्रा ऐसे 2-3 ऐप्‍स के साथ बिजनस कर रहे थे, जो पॉर्न वीडियोज स्‍ट्रीम करते हैं। इसके साथ ही राज कुंद्रा की कंपनी विआन इंडस्‍ट्रीज के बैंक अकाउंट्स को खंगालने का काम भी जारी है।

वीडियोज के डिस्‍ट्रिब्‍यूशन को लेकर गहराया शक
एक न्‍यूज पोर्टल की रिपोर्ट के मुताबिक, जब प्‍ले स्‍टोर और एप्‍पल स्‍टोर से ‘हॉटशॉट्स’ ऐप को हटाया गया, तब राज कुंद्रा ने ऐसे ही दूसरे ऐप्‍स के साथ बिजनस डील की थी और वहां अपने पोर्नोग्राफिक वीडियोज को अपलोड कर रहे थे। कुंद्रा के आईटी हेड रायन थार्प की गिरफ्तारी और पूछताछ के बाद पुलिस अश्‍लील वीडियोज के डिस्‍ट्रि‍ब्‍यूशन का पूरा खेल समझने में जुटी हुई है। इस बाबत पूछताछ में श‍िल्‍पा शेट्टी से भी सवाल किए गए थे।

श‍िल्‍पा के बैंक खातों की भी होगी जांच
श‍िल्‍पा शेट्टी ने हालांकि, पूछताछ में पति राज कुंद्रा का बचाव किया है। उन्‍होंने इस बात को सिरे से खारिज किया है राज पॉर्न फिल्‍में बनाते थे। श‍िल्‍पा ने वही बात दोहराई है, जो राज कुंद्रा के वकील सुभाष जाधव कह रहे हैं। श‍िल्‍पा का कहना है कि राज इरॉटिक फिल्‍में बना रहे थे और उसे पॉर्न नहीं कहा जा सकता है। श‍िल्‍पा शेट्टी को लेकर भी पुलिस की जांच जारी है।

श‍िल्‍पा ने कुछ महीने पहले ही विआन इंडस्‍ट्री के डायरेक्‍टर पद से इस्‍तीफा दिया था। शक और आशंकाएं यहीं से शुरू हुई हैं कि ऐसा क्‍यो हुआ। श‍िल्‍पा के बैंक खातों की भी जांच होगी, ताकि यह पता लगाया जा सके कि कहीं पॉर्न फिल्‍मों की कमाई का लाभ उन्‍हें भी तो नहीं मिला है।

बम्‍बई हाई कोर्ट में जमानत की गुहार
राज कुंद्रा को बीते सोमवार, 19 जुलाई की रात को गिरफ्तार किया गया था। इसके अगले दिन उन्‍हें कोर्ट में पेश किया गया। पहले उन्‍हें 23 जुलाई तक पुलिस कस्‍टडी में भेजा गया था, जबकि बाद में इसे बढ़कर 27 जुलाई कर दिया गया।

loading...

Check Also

कानपुर : आपसे लक्ष्मी माता है नाराज, शिक्षिका से लाखों रुपए की टप्पेबाजी कर फरार हुए शातिर

तीन थानों की पुलिस फोर्स संग मौके पर पहुंचे एडीसीपी कानपुर  । शहर के सीसामाऊ ...