Sunday , May 16 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / तीन घंटे में 80 लाख से ज्यादा लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन, लेकिन एक्सपर्ट्स को है इस बात की चिंता

तीन घंटे में 80 लाख से ज्यादा लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन, लेकिन एक्सपर्ट्स को है इस बात की चिंता

नई दिल्ली :  देश भर में 18 साल से 44 साल के उम्र के लोगों को भी कोविड वैक्सीन लगाने के लिए बुधवार से रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया। 1 मई से वैक्सीन लगनी है। लेकिन वैक्सीन की कमी लगातार एक्सपर्ट्स की चिंता भी बढ़ा रही है। जहां एक तरफ सभी वयस्कों को वैक्सीन लगाने की शुरूआत होने वाली है वहां 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन की सेकंड डोज लगने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अलग-अलग शहर में कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल्स ने वैक्सीन की कमी बताते हुए लोगों की सेकंड डोज का अपॉइंटमेंट कैंसल किया है।

18+ के लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत होने के 3 घंटे के भीतर ही यानी बुधवार को शाम 7 बजे तक 80 लाख से ज्यादा लोगों रजिस्ट्रेशन करा लिए थे। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पहले तीन घंटे में 38.3 करोड़ एपीआई हिट्स हुए। कोविन पोर्टल पर प्रति सेकंड 55,000 हिट्स हुए। दरअसल, कोरोना महामारी की दूसरी लहर जिस तेजी से फैल रही है, उसे देखते हुए ज्यादा से ज्यादा लोग जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाना चाहते हैं। लेकिन वैक्सीन की कमी एक बड़ी चुनौती है।

18+ के जिन लोगों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है, उन्हें अभी अपॉइंटमेंट नहीं मिला है यानी उन्हें वैक्सीनेशन के डेट और टाइम स्लॉट के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। वैक्सीनेशन का अपॉइंटमेंट तभी संभव होगा जब राज्य सरकारें और प्राइवेट सेंटर वैक्सीनेशन सेशंस शुरू करेंगे। लेकिन हालत यह है कि महाराष्ट्र, गोवा, छत्तीसगढ़ जैसे राज्य तो वैक्सीन की कमी का हवाला देते हुए हाथ खड़ा कर चुके हैं कि वे 1 मई से 18+ के लिए वैक्सीनेशन नहीं शुरू कर पाएंगे। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को कहा कि वैक्सीन की पर्याप्त डोज नहीं होने की वजह से राज्य में 1 मई से 18+ के लिए वैक्सीनेशन शुरू नहीं हो पाएगा। यही हाल गोवा, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल का है जहां 1 मई से वैक्सीनेशन के अगले चरण की शुरुआत पर संदेह है।

हेल्थ मिनिस्ट्री की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि भारत सरकार ने अबतक राज्यों को करीब 16 करोड़ वैक्सीन डोज मुफ्त में उपलब्ध कराई है। 1 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज अभी राज्य सरकारों के पास उपलब्ध है। अगले तीन दिन में राज्यों को अतिरिक्त 57 लाख वैक्सीन डोज उपलब्ध कराई जाएगी।

दिल्ली, कोलकाता, अमृतसर सहित कई जगह 45 प्लस के लोगों को वैक्सीन की सेकंड डोज मिलने में भी दिक्कत आ रही है। ऐसी कई शिकायतें आईं जिसमें कहा गया कि पहले हॉस्पिटल ने सेकंड डोज का स्लॉट दिया था जिसे आखिरी वक्त में कैंसल कर दिया गया। एक्सपर्ट्स इसका अंदेशा भी जता रहे हैं कि जब 18 प्लस के लिए वैक्सीन लगना शुरू होगी तो कहीं 45 प्लस वालों की सेकंड डोज पर असर ना पड़े। इसके लिए गाइडलाइन की मांग भी की जा रही है।

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पिटल में जॉइंट रिप्लेसमेंट और ऑर्थोपेडिक्स के निदेशक डॉ. कौशल कांत मिश्रा ने कहा कि सोशल मीडिया में कई लोग सेकंड डोज मिलने में दिक्कत की शिकायत कर रहे हैं। जब 18 प्लस वालों को वैक्सीन लगेगी तब यह दिक्कत और भी बढ़ सकती है। 45 प्लस वालों के लिए वैक्सीन का चार्ज 250 रुपये रखा गया है जबकि 18 प्लस वालों के लिए यह 1500 रुपये कहा गया है। डॉ. कौशल ने कहा कि अगर इस स्थिति में कोई हॉस्पिटल सेकंड डोज देने से मना करे तो वैक्सीन की बर्बादी होगी क्योंकि सेकंड डोज दो महीने के भीतर लगना जरूरी है। उन्होंने कहा कि सरकार को इसके लिए तुरंत डिटेल गाइडलाइन जारी करनी चाहिए ताकि बाद में दिक्कत ना हो।

 

loading...
loading...

Check Also

हिसार में हंगामा: कोविड अस्‍पताल का फीता काटने पहुंचे CM खट्टर का विरोध किए किसान, DSP को पीटा

हिसार में रविवार को 500 बिस्तर की क्षमता वाले अस्थायी कोविड अस्पताल का उद्घाटन करने ...