Friday , July 23 2021
Breaking News
Home / क्राइम / संघ के ‘हिंदू बैंक’ ने की करोड़ों की ठगी, दर्ज हुईं 15 FIR

संघ के ‘हिंदू बैंक’ ने की करोड़ों की ठगी, दर्ज हुईं 15 FIR

सभी सरकारी बैंकों का निजीकरण करने की नीति के संकेत के बीच खास खबर आई है। हिंदुत्व का दम भरने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा के कथित हिंदू बैंक ने हिंदू खाताधारकों को ही करोड़ों का चूना लगा दिया। जब खाताधारकों ने भुगतान का दबाव डाला तो बैंक ही बंद कर दिया गया। इस मामले में 15 एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं और कई अन्य ग्राहक भी कानूनी कार्रवाई की तैयारी में हैं।

यह मामला केरल के चेरपुल्लास्सेरी शहर का है, जहां अयप्पा भगवान का सबरीमला मंदिर है। देश अभिमानी डॉट काम की खबर के अनुसार, बैंकिंग घोटाला हिंदुस्तान डेवलपमेंट बैंक (हिंदू बैंक) में हुआ है। आरएसएस के सक्रिय कार्यकर्ता और संघ परिवार की सोशल मीडिया सेल के प्रभारी सुरेश कृष्णा, जो बैंक के चेयरमैन भी हैं, उनके खिलाफ 15 लोगों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। इन शिकायतकर्ताओं के बैंक में 97 लाख रुपए जमा हैं। उन्होंने चेयरमैन पर बैंक के लिए खरीदे गए वाहनों का अपने नाम पर पंजीकरण करने का आरोप लगाया।

ऐसा भी बताया जा रहा है कि इस घटनाक्रम के बीच बैंक के निदेशकों ने भी सुरेश के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। वहीं, निदेशकों के इस कदम को भी खाताधारक धोखाधड़ी ही मान रहे हैं, जिससे भाजपा नेता जमाकर्ताओं को यह भरोसा दिला सकें कि घोटाला एक व्यक्ति ने किया है।

ग्राहकों का कहना है कि पूरे घोटाले को आरएसएस-भाजपा नेताओं की पूरी जानकारी में किया गया। फिलहाल, पुलिस यह जांच कर रही है कि सारा पैसा गया कहां। कई जमाकर्ताओं को 16 फीसदी ब्याज देने का झांसा दिया गया, जिनके भाजपा कार्यकर्ता भी शामिल हैं, इनमें से एक ने पत्नी के गहने दूसरे बैंक में गिरवीं रखकर ‘हिंदू बैंक’ में जमा किया। इसके अलावा 2500 रुपए आवर्ती जमा योजना के तहत भी कई लोगों से धन एकत्र किया गया।

यही नहीं, भाजपा कार्यकर्ताओं ने कई लोगों को नौकरी देने का वादा करके जमा राशि भी वसूल की। बैंक के सभी निदेशक भी आरएसएस-भाजपा कार्यकर्ता हैं। जमाकर्ताओं ने अपनी शिकायत में कहा है कि बैंक खुलने से पहले ही पहले वर्ष में करोड़ों रुपये इकट्ठे किए गए।

जमाकर्ता बैंक के लेनदेन से नाखुश थे और उन्होंने अपनी जमा राशि वापस करने के लिए कहा तो बैंक बंद कर दिया, इसके बाद ही कानूनी दरवाजा खटखटाया गया। बैंक भवन के मालिक को भी पिछले कई महीनों से किराया नहीं दिया गया है।

loading...

Check Also

आगरा: 8.5 करोड़ की डकैती का मास्टरमाइंड है खानदानी अपराधी, दो भाइयों का हुआ एनकाउंटर, बहन पर भी 8 केस दर्ज

आगरा में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी में 8.5 करोड़ रुपए की डकैती का मास्टरमाइंड नरेंद्र ...