Saturday , May 15 2021
Breaking News
Home / खबर / दिल्ली में ऐसा कत्लेआम किया कोरोना, अब इंसानों के लिए इस्तेमाल होगा कुत्तों का श्मशान

दिल्ली में ऐसा कत्लेआम किया कोरोना, अब इंसानों के लिए इस्तेमाल होगा कुत्तों का श्मशान

नई दिल्ली: साउथ, नॉर्थ और ईस्ट एमसीडी में जितने भी श्मशान हैं, उनमें हर रोज चिताओं की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है। हफ्तेभर पहले तक श्मशानों में 650 चिताएं कोविड मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए रिजर्व थीं। इसके बाद चिताओं की संख्या बढ़ाकर 773 कर दी गई। लेकिन, श्मशानों में इतनी चिताएं भी कम पड़ने लगी थीं। इसके बाद सोमवार को एमसीडी ने कोविड चिताओं की संख्या बढ़ाकर 882 कर दी। इसके अलावा कुछ ऐसे स्थानों को चुना गया है, जहां नए श्मशान बनाए जा सकते हैं। द्वारका सेक्टर 29 स्थित कुत्तों के श्मशान को भी इंसानो के अंतिम संस्कार के लिए इस्तेमाल करने की प्लानिंग की गई। अगले हफ्ते से श्मशान में 51 चिताएं तैयार की जाएंगी।

एमसीडी अफसरों के अनुसार जब एक दिन में कोविड मृतकों के 100 या इससे कम शव अंतिम संस्कार के लिए आ रहे थे, तब श्मशानों में कोविड के लिए 309 चिताएं रिजर्व थीं। मृतकों की संख्या बढ़ने पर इसे बढ़ा कर 400, फिर 600 किया गया। लेकिन, जब इतने से भी काम नहीं चला तो कोविड रिजर्व चिताओं की संख्या बढ़ा कर 773 कर दी गई। सोमवार शाम को एक बार फिर नॉर्थ, साउथ और ईस्ट एमसीडी के श्मशानों में चिताओं की संख्या में बढ़ोतरी की गई है। अब कोविड मृतकों के लिए श्मशानों में 882 चिताएं रिजर्व हैं।

इसमें से नॉर्थ एमसीडी के सभी श्मशानों को मिलाकर 358, साउथ एमसीडी के सभी श्मशानों को मिलाकर 416 और ईस्ट एमसीडी के श्मशानों में 108 चिताएं रिजर्व हैं। ऐसे में नए श्मशानों की तलाश की जा रही है। अफसरों का कहना है कि अभी श्मशानों में कुछ स्पेस है। लेकिन, जब एक दिन में कोविड मृतकों की संख्या हजार के आसपास होगी, तो सेक्टर 29 में प्रस्तावित डॉग क्रिमोटोरियम का भी इस्तेमाल किया जाएगा।

loading...
loading...

Check Also

कफनचोर गैंग के सपोर्ट में बोले BJP नेता- ये तो हमारे वोटर हैं.. छोड़ दीजिए योगीजी..

थोड़े ही दिन पहले मानवता को शर्मसार करने वाली खबर आई थी। कुछ लोगों के ...