Saturday , May 15 2021
Breaking News
Home / खबर / देश में ‘अघोषित’ लॉकडाउन : यूपी-बिहार से लेकर राजस्थान-महाराष्ट्र तक, देखें किस राज्य में कितनी पाबंदी?

देश में ‘अघोषित’ लॉकडाउन : यूपी-बिहार से लेकर राजस्थान-महाराष्ट्र तक, देखें किस राज्य में कितनी पाबंदी?

नई दिल्ली
भले ही मोदी सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन न लगाया हो, पर कई राज्य उसी रास्ते पर चल रहे हैं। जी हां, कोरोना के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी पर लगाम कसने के लिए विशेषज्ञों एवं अन्य लोगों की ओर से देशव्यापी लॉकडाउन की मांग हो रही है। वहीं, भारत के बड़े हिस्से में इस तरह की पाबंदियां अलग-अलग अवधि के लिए जारी हैं।

आइए देखते हैं कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कैसी पाबंदियां लगाई गई हैं।

दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी में 19 अप्रैल से लॉकडाउन लगा हुआ है और यह 10 मई तक जारी रहेगा।

बिहार : चार मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगाया गया।

उत्तर प्रदेश : वीकेंड लॉकडाउन दो और दिनों के लिए बढ़ाकर बृहस्पतिवार तक किया गया है।

हरियाणा : यहां तीन मई से सात दिनों के लिए लॉकडाउन है। इससे पहले 9 जिलों में वीकेंड कर्फ्यू लगाया गया था।

ओडिशा : पूरे राज्य में पांच मई से 19 मई तक 14 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है।

राजस्थान : 17 मई तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं।

झारखंड : 22 अप्रैल से छह मई तक लॉकडाउन है।

छत्तीसगढ़ : यहां जिलाधिकारियों को लॉकडाउन 15 मई तक बढ़ाने की अनुमति है, जो पांच मई को समाप्त हो रहा है।

पंजाब : यहां वीकेंड लॉकडाउन जैसे उपायों के अलावा व्यापक पाबंदियां हैं और 15 मई तक रात्रि कर्फ्यू लागू रहेगा।

मध्यप्रदेश : यहां सात मई तक कोरोना कर्फ्यू लागू है जिसमें केवल आवश्यक सेवाओं को अनुमति है।

गुजरात : 29 शहरों में रात्रि कर्फ्यू जारी है। इसके अलावा आवाजाही एवं सार्वजनिक स्थलों पर एकत्रित होने से मनाही है।

महाराष्ट्र : इसने पांच अप्रैल को निषेधाज्ञा के साथ कर्फ्यू जैसा लॉकडाउन और लोगों की आवाजाही पर पाबंदियां लगाई थीं। पाबंदियां बाद में 15 मई तक बढ़ा दी गईं।

गोवा : चार दिवसीय लॉकडाउन सोमवार को समाप्त हो गया। लेकिन कलानगुटे और उत्तर गोवा के कैंडोलिम जैसे पर्यटक स्थलों पर लॉकडाउन जारी रहेगा। सरकार ने कहा है कि कोविड-19 के कारण पाबंदियां 10 मई तक जारी रहेंगी जिस दौरान विभिन्न व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे जबकि राजनीतिक एवं सामाजिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध रहेगा।

केरल : यहां चार मई से नौ मई तक लॉकडाउन जैसी कड़ी पाबंदियां लगाई गई हैं।

पुडुचेरी : यहां 10 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है।

तेलंगाना : 8 मई तक रात्रि कर्फ्यू जारी है।

आंध्रप्रदेश : छह मई से दो हफ्ते के लिए दोपहर 12 बजे से सुबह छह बजे तक आंशिक कर्फ्यू की घोषणा। राज्य में पहले रात्रि कर्फ्यू लगा था।

पश्चिम बंगाल : पिछले हफ्ते हर तरह की सभाओं पर प्रतिबंध सहित व्यापक पाबंदियां लगाई गईं।

असम : रात्रि कर्फ्यू को रात आठ बजे से सुबह छह बजे किया गया जिसमें बुधवार से सार्वजनिक स्थलों पर लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी। रात्रि कर्फ्यू 27 अप्रैल से सात मई तक।

नगालैंड : 30 अप्रैल से 14 मई तक कड़े नियमों के साथ आंशिक लॉकडाउन लगाया गया।

जम्मू-कश्मीर : प्रशासन ने श्रीनगर, बारामूला, बडगाम और जम्मू जिलों में छह मई तक लॉकडाउन बढ़ाया। सभी 20 जिलों के निगम/शहरी स्थानीय निकाय सीमा में रात्रि कर्फ्यू जारी।

उत्तराखंड : राज्य ने कई पाबंदियां और रात्रि कर्फ्यू लगाया है।

हिमाचल प्रदेश : 12 में से चार जिलों में रात्रि कर्फ्यू और सप्ताहांत बंदी।

उधर, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने मंगलवार को कहा कि जिन इलाकों में कोविड-19 मामलों की संक्रमण दर 10 प्रतिशत से ज्यादा या जहां अस्पतालों में 60 प्रतिशत से ज्यादा बिस्तर भर चुके हों वहां सख्त लॉकडाउन लगाया जाना चाहिए। उन्होंने कुछ राज्यों द्वारा कोरोना वायरस मामलों की संख्या कम करने के लिए अपनाई जा रही रात्रि कर्फ्यू और वीकेंड लॉकडाउन की रणनीति को खारिज करते हुए कहा कि संक्रमण दर पर इनका ज्यादा प्रभाव नहीं होगा।

loading...
loading...

Check Also

कफनचोर गैंग के सपोर्ट में बोले BJP नेता- ये तो हमारे वोटर हैं.. छोड़ दीजिए योगीजी..

थोड़े ही दिन पहले मानवता को शर्मसार करने वाली खबर आई थी। कुछ लोगों के ...