Monday , September 20 2021
Breaking News
Home / खबर / मुंबई में हैरान करने वाला मामला, वैक्सीनेशन के बावजूद तीसरी बार हुआ कोरोना

मुंबई में हैरान करने वाला मामला, वैक्सीनेशन के बावजूद तीसरी बार हुआ कोरोना

मुंबई
मुंबई में एक डॉक्टर के तीसरी बार कोरोना संक्रमित हो जाने का मामला सामने आया है। हैरानी की बात यह है कि वैक्सीन लगवा लेने के बाद भी डॉक्टर महामारी की चपेट में आ गईं। मुलुंड इलाके की रहने वाली डॉक्टर सृष्टि हलारी पिछले साल जून 2020 से लेकर तीसरी बार संक्रमित हुई हैं। उन्हें इस साल वैक्सीन लगी थी।

वैक्सीनेशन के बाद संक्रमण हो जाने को लेकर चल रही स्टडी के तहत डॉक्टर सृष्टि के स्वैब सैम्पल्स को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए कलेक्ट किया गया था। डॉक्टर्स के अनुसार तीसरी बार संक्रमण के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से SARS2 वेरिएन्ट्स से लेकर इम्युनिटी लेवल या गलत डायग्नोस्टिक रिपोर्ट भी वजह हो सकती है।

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि हलारी के सैम्पल को यह चेक करने के लिए कलेक्ट किया गया है कि वैक्सीनेशन के बावजूद वह संक्रमित कैसे हो गईं। इनमें से एक सैम्पल बीएमसी और दूसरा प्राइवेट अस्पताल की तरफ से किया गया। अभी संक्रमण की वजह की जांच की जा रही है। डॉक्टर हलारी 17 जून 2020 को बीएमसी कोविड सेंटर में काम करने के दौरान पॉजिटिव पाई गई थीं। उसके बाद इस साल 29 मई और 11 जुलाई को संक्रमित हुईं।

डॉक्टर सृष्टि हलारी ने बताया, ‘पहली बार जब मैं कोविड संक्रमित हुई तो इसलिए क्योंकि एक सहकर्मी संक्रमित पाया गया था। फिर मैंने अपनी पोस्टिंग पूरी की और पीजी प्रवेश परीक्षा से पहले ब्रेक लेने का फैसला किया और घर पर ही रही। जुलाई में पिता, भाई सहित पूरा परिवार ही कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गया था।’

डॉक्टर सृष्टि का इलाज कर रहे डॉक्टर मेहुल ठक्कर ने बताया, ‘ऐसा संभव है कि मई में हुआ दूसरा संक्रमण जुलाई में फिर से ऐक्टिवेट हो गया हो। या फिर आरटी-पीसीआर की रिपोर्ट निगेटिव आई हो।’ वहीं FMR की निदेशक डॉक्टर नरगिस मिस्त्री ने कहा कि हो सकता हो कि ऐसा होने की वजह कोरोना के किसी नए वेरिएंट का सामने आना हो।

loading...

Check Also

24 साल की लड़की के पैरों में डाल दीं बेड़ियां, आपके होश उड़ा देगी इसकी वजह

जमशेदपुर : झारखंड के जमशेदपुर में बिष्टुपुर थाना क्षेत्र स्थित एक विशेष समुदाय के पवित्र स्थल ...