धान के रकबे में मामूली सुधार, पिछले साल की तुलना में 2.3 लाख हेक्टेयर सूखा संभावित