Monday , September 20 2021
Breaking News
Home / खबर / चिरमिरी के स्कूल से 12वीं पास, परिवार तोड़ चुका है नाता, छत्तीसगढ़ की वंदना ऐसे बनी कुंद्रा की गहना

चिरमिरी के स्कूल से 12वीं पास, परिवार तोड़ चुका है नाता, छत्तीसगढ़ की वंदना ऐसे बनी कुंद्रा की गहना

रायपुर। पोर्न फिल्म कांड में फंसे राज कुंद्रा आजकल सुर्खियों में हैं। उसके फिल्मों की एक्ट्रेस-डायरेक्टर गहना वशिष्ठ भी चर्चा में हैं। बहुत कम लोग यह जानते हैं कि गहना का असली नाम वंदना तिवारी है और उसकी स्कूलिंग चिरमिरी में हुई है। मीडिया  ने उसे चार साल तक पढ़ाने वाले टीचर और उसके परिजन से बात की।

छत्तीसगढ़ का एक छोटा सा जिला है कोरिया। कोल माइंस वाले इस इलाके की एक जगह है चिरमिरी। चिरमिरी में साउथ ईस्टर्न कोलफिल्डस लिमिटेड, एसईसीएल की खदानें हैं। इसी कंपनी की बरतुंगा खदान में काम करते थे रविन्द्र तिवारी। रविन्द्र की एक बेटी का नाम था वंदना तिवारी। यही वंदना तिवारी अब PORN फिल्मों की एक्टर-डायरेक्टर बन गई है और उसने अपना नाम रख लिया है गहना वशिष्ठ। सीधी-सादी वंदना तिवारी के ग्लैमरस गहना वशिष्ठ बनने की कहानी की पड़ताल की मीडिया  ने।

मैथ्स-साइंस की स्टूडेंट इंजीनियर बनना चाहती थी
पिता के माइंस में काम करने के कारण वंदना का पूरा बचपन चिरमिरी में ही गुजरा। 2001 में उसने यहां की गवर्नमेंट गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में 9वीं क्लास में एडमिशन लिया। 12वीं तक वह यहीं पढ़ती रही। उसने फिजिक्स-केमेस्ट्री-मैथ्स विषय लिए थे। वंदना को पढ़ाने वाले स्कूल के लेक्चरर जगदीश सिंह बताते हैं कि वह तेज दिमाग वाली छात्रा थी। इंजीनियरिंग की पढ़ाई उसका लक्ष्य था, इसलिए उसने पीसीएम लिया था और 12वीं में 71 फीसदी अंक हासिल किए।

अभिनय की ओर झुकाव नहीं दिखता था
जगदीश सिंह कहते हैं कि स्कूल में उस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ करते थे। डांस-गाने की प्रतियोगिताएं भी हुआ करती थीं, लेकिन वंदना को कभी उन्होंने इन सब में भाग लेते नहीं देखा। कभी ऐसा नहीं लगा कि उसका अभिनय, फिल्मी दुनिया की ओर झुकाव है।

लौटकर नहीं आई कभी
2006 में वंदना इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिले के लिए भोपाल चली गई। इसके बाद वह लौटकर कभी चिरमिरी नहीं आई। उसने इंजीनियर बनने का सपना देखा था और उसे पूरा करने के लिए उसने कॉलेज में दाखिला ले लिया। उसके मां-बाप, परिजन यहीं रहे। इसके बाद वंदना का चिरमिरी आना-जाना कम होता गया और अब तो कई सालों से वह यहां नहीं आई।

मॉडलिंग, तेलगु फिल्में, वेब सीरिज और फिर साफ्ट पोर्न
भोपाल में इंजीनियरिंग कालेज में पढ़ाई के दौरान वंदना का झुकाव मॉडलिंग की तरफ हुई। कॉलेज लाइफ के दौरान वंदना में बोल्डनेस आ गई। उसने ब्यूटी कॉन्टेस्ट में भाग लेना शुरू किया। धीरे-धीरे उसे मॉडलिंग के ऑफर मिलने लगे। इसी दौरान वह मुंबई चली गई और अपना नाम बदल कर गहना वशिष्ठ कर लिया।

एक कॉन्टेस्ट बिकनी ब्यूटी की भी हुई। उसमें वंदना ने एशिया स्तर पर पहला स्थान हासिल किया। इसके बाद उसने पीछे नहीं देखा। कुछ बॉलीवुड की बोल्ड फिल्में कीं। फिर दक्षिण भारतीय फिल्मों में बोल्ड सीन के दौरान ही उसे वेब सीरीज में भी काम मिलने लगा। वह राज कुंद्रा के प्रोडक्शन में नजर आई। इरोटिक शॉर्ट फिल्मों में काम करने के बाद वह सॉफ्ट पोर्न कही जाने वाली फिल्में डायरेक्ट भी करने लगी।

परिवार ने नाता तोड़ा
वंदना के माता-पिता उसके मॉडलिंग में जाने के खिलाफ थे। उन्होंने इसका विरोध किया, लेकिन वंदना पर उसका कोई असर नहीं हुआ। उसके बोल्ड सीन और सी ग्रेड की फिल्मों के बारे में सुनकर परिवारवालों को गहरा सदमा लगा। परिवार ने वंदना उर्फ गहना से रिश्ते पूरी तरह खत्म कर लिए। मीडिया  ने उसके परिजनों से फोन कर इस संबंध में बात की तो उन्होंने साफ तौर पर वंदना को नहीं जानने की बात कही।

 

loading...

Check Also

IPL की गुमनाम दास्तान: कहां गया वो भारतीय तूफान, जिसे खोजकर लाए थे शेन वॉर्न

इंडियन प्रीमियर लीग IPL से करियर शुरू कर कई खिलाड़ी टीम इंडिया तक का सफर ...