Friday , July 23 2021
Breaking News
Home / खबर / पुलिस जांच में खुलासा- AAP दफ्तर में शराब पीकर पड़ा शख्स निकला भाजपा कार्यकर्ता

पुलिस जांच में खुलासा- AAP दफ्तर में शराब पीकर पड़ा शख्स निकला भाजपा कार्यकर्ता

राजनीति भी अजब गजब चीज है। विरोधियों को बदनाम करने के लिए ये नेता किसी भी हद तक पहुंच जाते हैं। ताजा मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के राज्य गुजरात से आया है। पिछले दिनों सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई जिसमें आम आदमी पार्टी के गुजरात कार्यालय के भीतर एक शख्स शराब पीकर सोफे पर पैर चढ़ाकर लेटा हुआ है। गुजरात भाजपा के कई नेताओं ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर इस तस्वीर को पोस्ट किया और बाद में सच्चाई सामने आने के बाद उन्हे माफी मांगने की नौबत आ गई।

गुजरात की राजनीति में इन दिनों आम आदमी पार्टी के कार्यालय में शराब पीकर बदहोश पड़े एक व्यक्ति की तस्वीरें चर्चा में है। भाजपा नेताओं ने इस तस्वीर को वायरल कर शुरुआत में तो खूब तालियां बटोरी और आम आदमी पार्टी को गालियां सुननी पड़ी लेकिन जब मामला हद से आगे बढ़ गया तो आम आदमी पार्टी के नेता पुलिस तक पहुंच गए।

जब जांच हुई तो मामला कुछ और ही निकल गया और भाजपा नेताओं को तस्वीर पोस्ट करने के लिए माफी मांगनी पड़ गई। यह तस्वीर सूरत के गोपीपुरा इलाके के आम आदमी पार्टी दफ्तर की बताई जा रही है। इसमें एक व्यक्ति शराब के नशे में धुत होकर सोफे पर पैर चढ़ाकर पड़ा हुआ है।

सूरत से भाजपा के वार्ड पार्षद बृजेश उंडकट ने इस फोटो को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि ये नजारा है आप कार्यालय का… शाम 6ः45 के बाद का. लोगों ने इस पर तरह तरह के कमेंट लिखे और आप को निशाने पर लिया।

आम आदमी पार्टी के स्थानीय नेताओं ने मामले को पुलिस तक पहुंचाया तो जांच में वो शख्स आप का नहीं बल्कि भाजपा का ही कार्यकर्ता निकल गया। इस भाजपा कार्यकर्ता का नाम हिमांशु मेहता है।

सीसीटीवी फुटेज की जांच में पता चला कि भाजपा कार्यकर्ता हिमांशु मेहता शराब के नशे में धुत होकर आप के कार्यालय में लेट जाता है।

भाजपा की ही दूसरा कार्यकर्ता जयराज साहूकार उसकी फोटो खींचता है। इसके बाद इस फोटो को भाजपा के अलग अलग व्हाट्स एप ग्रुपों में भेज दिया जाता है।

आम आदमी पार्टी इसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराती है इसके बाद भाजपा नेता प्रशांत बरोट लिखित रुप से माफीनामा पुलिस के समक्ष देते हैं. इसके बाद आप ने एफआईआर वापस ले ली।

राजनीतिक रणनीतिकार अंकित लाल ने इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि दूसरों को बदनाम करने के लिए ये भाजपा वाले कुछ भी कर सकते हैं।

जबकि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि हार की संभावनाओं को देखते हुए भाजपा के नेता छिछोरी हरकतें कर रहे हैं।

loading...

Check Also

आगरा: 8.5 करोड़ की डकैती का मास्टरमाइंड है खानदानी अपराधी, दो भाइयों का हुआ एनकाउंटर, बहन पर भी 8 केस दर्ज

आगरा में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी में 8.5 करोड़ रुपए की डकैती का मास्टरमाइंड नरेंद्र ...