Tuesday , September 21 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / योगी सरकार का चुनावी विस्‍तार, शामिल होंगे सात नये मंत्री, पक्के हैं ये 4 नाम

योगी सरकार का चुनावी विस्‍तार, शामिल होंगे सात नये मंत्री, पक्के हैं ये 4 नाम

लखनऊ. लखनऊ के सियासी गलियारों में योगी मंत्रिमंडल विस्‍तार की चर्चाएं तेज हो गई हैं। गुरुवार शाम को सीएम योगी आदित्यनाथ नई दिल्ली गए। और वहां पर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। सीएम योगी के साथ यूपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल भी थे। विधानसभा चुनाव 2022 के कुछ माह ही बाकी है और इस वक्त भाजपा से कई सहयोगी मुंह फुलाए बैठे हुए हैं। अपने असंतुष्ट सहयोगियों को खुश करने का यह सही मौका है।

संभावना जताई जा रही है कि योगी मंत्रिमंडल में जल्द सात नये मंत्री बनाए जाएंगे। जिसमें संजय निषाद, जितिन प्रसाद, अरविंद कुमार शर्मा और लक्ष्मीकांत बाजपेयी के नाम दौड़ में सबसे आगे हैं। बताया जा रहा है कि विधान परिषद सदस्य के लिए भी चार नामों पर सहमति बन गई है।

सात नए मंत्री की गुंजाइश :- उत्तर प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कुल 53 मंत्री हैं। इनमें 23 कैबिनेट, नौ राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 21 राज्यमंत्री हैं। मानक के अनुसार साठ मंत्री बनाए जा सकते हैं। इस हिसाब से सात और मंत्री बनाने की गुंजाइश बाकी है।

बस सिर्फ इंतजार करें :- मंत्रिमंडल विस्तार के साथ ही एमएलसी मनोनयन की प्रक्रिया भी रुकी है। चर्चा यही है कि नए एमएलसी में से भी एक-दो को मंत्री बनाया जा सकता है, इसलिए हर तरह से समीकरण पर मंथन चल रहा है। सूत्रों के अनुसार, जेपी नड्डा और अमित शाह के साथ हुई मुलाकात में मंत्रिमंडल विस्तार और एमएलसी बनाने के लिए चार नामों पर सहमति बन गई है। अब सिर्फ इंतजार है कि सीएम योगी के दिल्ली से राजधानी लखनऊ लौटने का।

चार पक्के उम्मीदवार :- निषाद पार्टी के अध्यक्ष डा. संजय निषाद लगातार अपने को डिप्टी सीएम बनाने की मांग कर रहे है। नड्डा और शाह से मिलकर अपनी इच्छाओं को भी जता चुके हैं। वोट बैंक को देखते हुए संजय निषाद को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। सामाजिक समीकरण साधने के लिए कुछ नए चेहरों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है।

भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी और पूर्व नौकरशाह एवं भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष अरविंद कुमार शर्मा मंत्रिमंडल में शामिल होने के मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं।

ओबीसी आरक्षण पर चर्चा :- ओबीसी आरक्षण को लेकर राज्यों को मिले अधिकार के तहत प्रदेश की कुछ सामान्य जातियों को ओबीसी में आरक्षण दिया जा सकता है।

loading...

Check Also

RCB vs KKR : कोहली के रडार पर 2 बड़े रिकॉर्ड, एक का बनना तो एकदम पक्का

आईपीएल फेज-2 का आज दूसरा मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच ...