https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-91096054-1">
Thursday , June 24 2021
Breaking News
Home / खबर / मुंबई के इस शख्स को सबसे बड़ा दर्द दी कुदरत, परिवार के 9 सदस्यों के एकसाथ देखे शव

मुंबई के इस शख्स को सबसे बड़ा दर्द दी कुदरत, परिवार के 9 सदस्यों के एकसाथ देखे शव

मुंबई. मानसून की जोरदार दस्तक के साथ मुंबईवासियों की मुसीबत बढ़ने लगी है। बुधवार दिनभर हुई बारिश के बाद देर रात मलाड वेस्ट के मालवानी इलाके में एक चार मंजिला इमारत ढह गई। इसका मलबा पास के एक घर पर गिरा और कुल 11 लोगों की मौत। मरने वालों में 43 साल के मोहम्मद रफी के परिवार के 9 सदस्य शामिल थे। हादसे में घायल हुए 8 लोगों में तीन की हालत गंभीर बनी हुई है। रफी अब इस दुर्घटना के बाद अपनों की निशानियों को इस मलबे में तलाश रहे हैं।

दूध लेने बाहर गए, लौटे तो जमींदोज ही चुकी थी इमारत
रफी बताते हैं कि रात करीब 10 बजे वे दूध लेने के लिए बाहर गए थे। कुछ देर बाद लौटे तो इमारत जमींदोज हो चुकी थी। पहले तो उन्हें अपनी आंखों पर भरोसा नहीं हुआ, लेकिन किसी तरह हिम्मत जुटा कर धूल के गुबार के बीच मलबा हटाने का प्रयास शुरू कर दिया। हालांकि, उनका यह प्रयास नाकाफी रहा और सुबह होते-होते उनके परिवार के 9 लोगों के शव उनकी आंखों के सामने थे।

रफी के परिवार के जिन 9 लोगों की मौत हुई उनमें उनकी पत्नी, भाई-भाभी और उनके 6 बच्चे थे। रफी का एक भतीजा तो सिर्फ डेढ़ साल का था। बदहवास हाल में वे पूरी रात वहीं बैठे रहे और अपनी आंखों के सामने अपनों के शवों को बाहर निकलते देखते रहे। उन्होंने बताया, ‘हमें नहीं लगा था कि यह इमारत जर्जर हो चुकी है, नहीं तो हम इसे पहले ही छोड़ देते। रफी और उनके भाई पूरे परिवार के साथ इमारत के तीसरे फ्लोर पर छोटे-छोटे तीन कमरों में रहते थे।

रफी ने इस हादसे में अपने इन करीबियों को खोया

  • शफीक मोहम्मद सलीम सिद्दीकी (45)
  • तौसीफ शफीक सिद्दीकी (15)
  • अलीशा शफीक सिद्दीकी (10)
  • आलिफशा शफीक सिद्दीकी (1.5)
  • हसीना शफीक सिद्दीकी (6)
  • इशरत बानो रफी सिद्दीकी (40)
  • रहीशा बानो शफीक सिद्दीकी (40)
  • ताहिस शफीक सिद्दीकी (12)
  • जॉन इर्रानन्न (13)
loading...
loading...

Check Also

चीन का गुनाह: कोरोना के शुरुआती मरीजों का डिलीट किया डेटा, ताकि कुछ न जाने दुनिया!

कोरोना वायरस के स्रोत को लेकर घिरे चीन और उसकी वुहान लैब के बारे में ...