Thursday , October 21 2021
Breaking News
Home / खबर / 13 गांवों में टीका नहीं लेने पर हुक्का-पानी बंद, 10 पंचायतों में टीका लगवाने पर मोबाइल रिचार्ज फ्री!

13 गांवों में टीका नहीं लेने पर हुक्का-पानी बंद, 10 पंचायतों में टीका लगवाने पर मोबाइल रिचार्ज फ्री!

कोरोना की दूसरी लहर के कहर के बाद अब तीसरी लहर से बचने के लिए वैक्सीन ही कारगर उपाय है, लेकिन अब भी आम लोगों में इसको लेकर भ्रम की स्थिति है। सरकार ग्रामीण इलाकों में वैक्सीनेशन के लिए जागरूकता अभियान चला रही है। अब स्थानीय स्तर पर साम-दाम, दंड-भेद की नीति अपनाई जा रही है। भोपाल के 13 गांवों ने फैसला किया है कि यदि टीका नहीं लगवाया तो हुक्का-पानी बंद कर दिया जाएगा। दूसरी तरफ बैरसिया की 10 पंचायतों के लिए BJP विधायक विष्णु खत्री ने ऑफर दिया है कि टीका लगवाने वाले हर 10वें व्यक्ति को 199 रुपए का मोबाइल रिचार्ज वाउचर दिया जाएगा।

विधायक खत्री के मुताबिक, बैरसिया की खेचरा, मोहली, धरमता, पादरी सहित 10 पंचायतों में लोग टीका नहीं लगवा रहे हैं। ऐसे में उन्हें प्रेरित करने के लिए लकी ड्रॉ योजना लाई जा रही है। दरअसल, ग्रामीण टीके को लेकर भ्रमित हैं। उन्हें लगता है कि टीका लगवाने के बाद तबीयत खराब हो जाएगी। खत्री के मुताबिक, हर गांव में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन तीसरी लहर आने से पहले 100% वैक्सीनेशन पर ध्यान दिया जा रहा है।

भोपाल की 4 पंचायतों में रातीबड़, सरवर, सिकंदराबाद और मुंडला शामिल है। इन पंचायतों से जुड़े 13 गांवों में करीब 17 हजार की आबादी रहती है। इनमें से अब तक 5 हजार लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं, लेकिन अब भी ग्रामीणों में इसको लेकर भ्रम की स्थिति है। अब इन 4 पंचायतों के 13 गांवों ने तय किया है कि उनके गांव का जो भी शख्स कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएगा, उससे पूरा गांव संबंध खत्म कर लेगा। उसे गांव के किसी भी कार्यक्रम में नहीं बुलाया जाएगा और न ही कोई व्यक्ति उसके घर जाएगा।

फतेहपुर डोबरा गांव में डर, वैक्सीन लगवाई तो मौत हो जाएगी

भोपाल से 25 किलोमीटर दूर फतेहपुर डोबरा गांव है। इस गांव में लगभग हजार लोग रहते हैं। इस गांव में लोगों के बीच अफवाह उड़ा दी गई है कि अगर वैक्सीन लगवाई तो उनकी मौत हो जाएगी। इसलिए लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं। ऐसे में वैक्सीन के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए तमाम मंदिरों के पुजारी और मस्जिदों के मौलवी लोगों से घर-घर जाकर वैक्सीन लगवाने के लिए अपील कर रहे हैं। कुछ जगह वैक्सीनेशन के लिए लोगों को निमंत्रण पत्र भी बांटे जा रहे हैं।

कोरोना वैक्सीन को लेकर भोपाल से जारी हो चुका है फतवा

भोपाल के शहर मुफ़्ती ने मुस्लिम समाज के लिए कोरोना वैक्सीन को लेकर फतवा तक जारी किया है। यह फतवा SDM जमील खान ने मांगा था। उन्होंने इसके लिए बकायदा मस्जिद कमेटी में अर्जी दी थी। खान ने पूछा था कि कोरोना का टीका लगवाने संबंधी शरई हुक्म क्या है? इसके जवाब में मुफ्ती अबुल कलाम कासमी बोले- कोरोना का टीका लगवाने में कोई हर्ज नहीं है। SDM खान ने एक सवाल और पूछा था कि सेहत की हिफाजत के लिए कोरोना का टीका बतौर इलाज लगवाना कैसा है? इसके जवाब में कासमी ने कहा-इलाज कराना सुन्नत है। सेहत की हिफाजत जरूरी है। इलाज की खातिर इसे लगवाने में कोई समस्या नहीं है। SDM खान ने फतवा लेने की पुष्टि करते हुए बताया कि सामाजिक जागरूकता की खातिर उन्होंने फतवा मांगा।

इंदौर में वैक्सीन लगवाने पर लकी ड्रॉ में एंट्री, मिलेगा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

वैक्सीनेशन को बढ़ावा देने के लिए इंदौर में एक अनूठा प्रयोग किया जा रहा है। BJP विधायक आकाश विजयवर्गीय का दावा है कि इस प्रयोग से अगले 15 से 20 दिन में शहर की एक विधानसभा के 80% लोग वैक्सीनेट हो जाएंगे। वैक्सीनेशन करवाने वाले लोगों के लिए एक लकी ड्रॉ योजना रखी गई है, जिसमें 5 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों के साथ ही क्षेत्र के लोगों को बैट-बॉल, कोरोना किट, मास्क सहित कुल 1100 पुरस्कार दिए जाने हैं। लकी ड्रा योजना की शुरुआत पिछले दिनों इंदौर के नवलखा क्षेत्र में स्थित एक मांगलिक भवन से की गई।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...