Friday , July 30 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / पड़ताल: कोरोना की तीसरी लहर के लिए महाराष्ट्र-गुजरात सबसे ज्यादा तैयार, पिछड़े यूपी और बिहार

पड़ताल: कोरोना की तीसरी लहर के लिए महाराष्ट्र-गुजरात सबसे ज्यादा तैयार, पिछड़े यूपी और बिहार

कोरोना की दूसरी लहर से सबक लेकर राज्यों ने अपने हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने शुरू कर दिए हैं। तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सबसे ज्यादा हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर महाराष्ट्र और गुजरात में बढ़ा है। वहीं, इस मामले में यूपी और बिहार सबसे पीछे हैं। अस्पतालाें (कोविड सेंटर) की संख्या काे अगर छाेड़ दें ताे दूसरे अन्य सभी मापदंडाें पर सबसे ज्यादा बढ़त दर राजस्थान में दर्ज हुई है। इनमें ऑक्सीजन प्लांट, आईसीयू बेड, वेंटिलेटर की संख्या शामिल है।

एक बड़े अखबार ने 7 राज्यों में यह पता लगाया कि तीसरी लहर से मुकाबले के लिए ये कितने तैयार हैं। सरकारी और निजी अस्पताल (कोविड सेंटर) की संख्या कितनी बढ़ी, ऑक्सीजन प्लांट, आईसीयू, वेंटिलेटर, दवाओं की उपलब्धता की स्थिति क्या है।

पता चला कि काेविड के इलाज के लिए सरकारी अस्पतालाें में सेंटराें की संख्या के मामले में सबसे ज्यादा 54.54% की बढ़ाेतरी हिमाचल प्रदेश में हुई है। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ तीसरे नंबर पर रहा। बिहार में सरकारी अस्पताल और काेविड सेंटराें की संख्या में काेई बढ़ाेतरी नहीं हुई, जबकि यूपी में मात्र 1.7% अस्पताल बढ़े हैं।

प्राइवेट अस्पतालों की संख्या सबसे ज्यादा महाराष्ट्र (42.35%) में बढ़ी, जबकि 41.17% बढ़त के साथ गुजरात दूसरे नंबर पर है। यूपी और बिहार में बढ़त शून्य ही रही है। ऑक्सीजन प्लांट की संख्या गुजरात में सबसे ज्यादा 1566.66% बढ़ी। यहां काेराेना से पहले 24 प्लांट थे, जाे बढ़कर 400 हाे गए। पहली लहर में सबसे ज्यादा वेंटिलेटर महाराष्ट्र में थे। यहां इनकी संख्या अब 12,863 हाे गई। दूसरे नंबर पर गुजरात रहा। यहां 7 हजार वेंटिलेटर से 15 हजार हाे गए हैं।

​​​​महाराष्ट्र ने एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन के 60 हजार वायल्स स्टॉक किए
राज्यों ने रेमडेसिवर और ब्लैक फंगस जैसी बीमारियों में उपयोग में आने वाली एम्फोटेरिसिन-बी का स्टॉक पर्याप्त होने का दावा किया है। महाराष्ट्र ने एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन के 60 हजार वायल्स की व्यवस्था कर रखी है। हिमाचल प्रदेश ने टेली मेडिसिन सेवा शुरू की है, जिसमें घर बैठे मुफ्त डॉक्टरी सलाह ली जा सकती है।

पीएम केयर फंड से अगस्त तक लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट, सबसे ज्यादा यूपी में
जनवरी में 32 राज्यों के 162 अस्पतालों में पीएम केयर फंड से 551 ऑक्सीजन प्लांट को मंजूरी दी गई थी। इसके तहत यूपी में अब तक 114 प्लांट शुरू हो चुके हैं। महाराष्ट्र में आज 3000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन हो रहा है। गुजरात में पीएम केयर फंड से 11 प्लांट लगने जा रहे हैं। इनमें एक शुरू भी हो चुका है।

loading...

Check Also

चीनी शख्स ने अपने प्राइवेट पार्ट में घुसेड़ ली 8 इंच लंबी मछली, बड़ी मुश्किल से जान बची

बीजिंग : कब्‍ज की परेशानी से जूझ रहे एक चीनी व्‍यक्ति का अपने रेक्‍टम के ...