Thursday , October 21 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / PM मोदी के इस ट्वीट में योगी विरोधियों के लिए छिपा है सख्त संदेश, पूरी बात समझिए

PM मोदी के इस ट्वीट में योगी विरोधियों के लिए छिपा है सख्त संदेश, पूरी बात समझिए

नई दिल्ली :  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दिल्ली दौरा खत्म हो गया और इसके साथ ही कई सवालों पर विराम भी लग गया। यह दौरा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए भी काफी अहम था। पीएम मोदी के अलावा गृह मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी वह मिले। यूपी विधानसभा चुनाव से पहले योगी आदित्यनाथ को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे थे और कई प्रकार की चर्चा शुरू हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार एक ट्वीट कर वरिष्ठ नागरिकों के लिए हेल्पलाइन शुरू करने की यूपी सरकार की प्रशंसा की।

ट्वीट के पीछे क्या है संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साथ ही यह लिखा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यह बहुत अच्छी पहल है। प्रधानमंत्री ने वरिष्ठ नागरिकों को स्वास्थ्य सेवा एवं कानूनी मदद के लिए हेल्पलाइन शुरू करने की पहल की प्रशंसा की। पीएम मोदी ने यह बात वरिष्ठ नागरिकों से आ रही अच्छी प्रतिक्रिया वाली खबर पर टिप्पणी करते हुए कही। पीएम मोदी के इस एक ट्वीट को सामान्य टिप्पणी के रूप में देखा जा सकता है लेकिन इसके पीछे एक संदेश भी छिपा है।

यूपी में तमाम सियासी चर्चाओं के बीच सीएम योगी जब प्रधानमंत्री से मिले उस वक्त भी कई प्रकार की चर्चा शुरू थी। प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच तकरीबन 80 मिनट तक बात हुई। प्रधानमंत्री आवास से बाहर निकलने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारों से कोई बात नहीं की और वहां से निकल गए। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से रिलीज जारी कर बताया गया कि किन मुद्दों पर बात हुई।

मिल गया जवाब
इस मुलाकात के बाद यह तो साफ हो गया कि यूपी में कोई बदलाव नहीं होने जा रहा है। साथ ही पीएम मोदी की ओर से ट्वीट कर सीएम योगी की तारीफ के बाद योगी के विरोधियों को भी जवाब मिल गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ को लेकर उनके विरोधी खेमे की ओर से जो यह सवाल खड़े किए जा रहे थे कि पीएम मोदी उनके काम से खुश नहीं है उन्हें भी जवाब मिल गया है। यूपी चुनाव से पहले कई कयास लगाए जा रहे थे उस पर भी विराम लग गया है।

दिल्ली दौरे के बाद सीएम योगी का बढ़ा कॉन्फिडेंस
कोरोना काल में हालात से निपटने और पंचायत चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन को लेकर भी सीएम योगी आदित्यनाथ पर सवाल खड़े हो रहे थे। दिल्ली दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी के साथ ही पार्टी की सीनियर लीडरशिप को बताया कि कोविड संकट से निपटने के लिए उनकी सरकार ने क्या किया। कुछ राज्यों में गुटबाजी और खुलकर किसी नेता के विरोध में बयानबाजी से पार्टी को नुकसान हुआ है और पार्टी यूपी में यह नहीं चाहती। इसको लेकर भी पार्टी की ओर से साफ संकेत दिए जा चुके हैं।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...