Saturday , May 15 2021
Breaking News
Home / खबर / कोरोना LIVE: राजस्थान का रिकवरी रेट सबसे नीचे, बड़े अस्पतालों में बेड फुल

कोरोना LIVE: राजस्थान का रिकवरी रेट सबसे नीचे, बड़े अस्पतालों में बेड फुल

राजस्थान में अब तक कोरोना के 5 लाख 30 हजार 875 केस मिल चुके हैं। इस लिहाज से राजस्थान देश के सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों में 10वें नंबर पर है, पर रिकवरी रेट के मामले में राजस्थान की स्थिति खराब है। यहां रिकवरी रेट 71% है। महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल, कर्नाटक जैसे राज्यों में रोज आने वाले केसों की संख्या राजस्थान से भी ज्यादा है, लेकिन वहां रिकवरी रेट 78% से ज्यादा है। इस मामले में राजस्थान देश के सबसे संक्रमित राज्यों में 15वें नंबर पर है।

पिछले 24 घंटे में राज्य में 16 हजार 438 पॉजिटिव केस मिले हैं। 6 हजार 416 मरीज रिकवर हुए हैं। एक सप्ताह में प्रदेश में 33 हजार 811 मरीज रिकवर हुए, जबकि 70 हजार एक्टिव केस सामने आए। इनकी वजह से बड़े शहरों के अस्पतालों में बेड्स फुल हो गए हैं।

भारत में टॉप 10 राज्यों में रिकवरी रेट की स्थिति

राज्य एक्टिव केस रिकवरी रेट
महाराष्ट्र 6,74,770 82 %
केरल 2,32,808 83 %
कर्नाटक 2,81,042 78 %
उत्तर प्रदेश 3,04,199 71 %
तमिलनाडु 1,07,145 89%
दिल्ली 92,358 89 %
आंध्र प्रदेश 95,131 90 %
पश्चिम बंगाल 94,949 86 %
छत्तीसगढ़ 1,21,352 80 %
राजस्थान 1,46,640 71 %

6 जिलों में रिकवरी रेट 80 फीसदी से ऊपर
राजस्थान के 33 जिलों में से केवल 6 ही ऐसे हैं, जहां 80% या उससे ज्यादा का रिकवरी रेट है। इनमें नागौर, डूंगरपुर, भरतपुर, गंगानगर, जालौर और झुंझुनूं शामिल हैं। भरतपुर और नागौर ऐसे जिले हैं, जिनमें रिकवरी रेट 90% से ऊपर है। मरीज बढ़ने का सबसे ज्यादा दबाव जयपुर, जोधपुर, उदयपुर और कोटा के अस्पतालों पर आ रहा है। यहां जिले के अलावा आसपास के इलाकों के मरीज भी आ रहे हैं। बड़े निजी और सरकारी अस्पतालों में बेड्स करीब-करीब फुल हैं।

जयपुर के RUHS, जयपुरिया अस्पताल में आईसीयू, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन बेड्स के लिए मारामारी मची हुई है। खुद परिवहन मंत्री भी जयपुरिया का दौरा करने गए तो वह भी स्थिति देखकर दंग रह गए।

राजस्थान के टॉप 6 जिले जहां सबसे खराब रिकवरी रेट

जिला एक्टिव केस रिकवरी रेट
सवाई माधोपुर 3,242 42%
प्रतापगढ़ 1,511 53%
सिरोही 3,622 55%
हनुमानगढ़ 2,586 57%
बारां 2,339 58%
दौसा 2,058 59%

सरकारी साइट पर बेड्स मौजूद, पर हकीकत में नहीं
जयपुर की बात करें तो सरकार ने यहां कोविड मरीजों के लिए संचालित 86 अस्पतालों की लाइव मॉनिटरिंग के लिए एक वेबसाइट covidinfo.rajasthan.gov.in लॉन्च की गई है। इस साइट पर जयपुरिया अस्पताल में सुबह तक 175 में से 38 बेड्स ग्रीन सिग्नल के दर्शा रहे हैं, लेकिन वास्तविकता में जब पता किया तो वहां एक भी बेड खाली नहीं हैं। यही स्थिति निजी अस्पतालों की भी है, जहां कुछ बेड्स खाली तो हैं, लेकिन वहां पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं है।

loading...
loading...

Check Also

कफनचोर गैंग के सपोर्ट में बोले BJP नेता- ये तो हमारे वोटर हैं.. छोड़ दीजिए योगीजी..

थोड़े ही दिन पहले मानवता को शर्मसार करने वाली खबर आई थी। कुछ लोगों के ...