Wednesday , June 16 2021
Breaking News
Home / खबर / राजस्थान में अनलॉक-2: बाजार खुलने का बढ़ेगा समय, ऐसी होंगी नई गाइडलाइंस

राजस्थान में अनलॉक-2: बाजार खुलने का बढ़ेगा समय, ऐसी होंगी नई गाइडलाइंस

जयपुर। राज्य में कोरोना संकट को कम होते देखते हुए राज्य सरकार अब नई गाइड लाइन जारी करेगी। इसमें बाजारों का समय बढाने और सरकारी परिवहन को फिर से शुरू किए जाने की संभावना है। राज्य मंत्रिपरिषद की रविवार देर रात तक चली बैठक के बाद तय हुआ कि सरकार आठ जून से अनलॉक को धीरे धीरे बढ़ाएगी। माना जा रहा है कि बाजारों को अब शाम 4 बजे तक खोला जा सकता है। इसके लिए बैठक में सभी मंत्रियों ने भी सहमति जताई है। साथ ही सरकारी बसों का संचालन शुरु करने और निजी वाहनों से दूसरे जिलों में जाने की भी छूट मिलेगी।

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह ने मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद कहा कि कहा कि आज की बैठक में कोरोना और ब्लैक फंगस के हालातों के साथ साथ अनलाक को लेकर भी विचार विमर्श हुआ है।खाचरियावास ने कहा कि 8 जून के बाद अनलॉक-2 शुरु होगा। इससे प्रदेश में जनता को कई तरह की राहत मिलेगी। साथ ही बाजार का समय बढ़ेगा।सभी इसके लिए सहमत है। हमने व्यापारियों की समस्याओं को बैठक में रखा है। सीएम अशोक गहलोत को सारी जानकारी है।सूत्रों के अनुसार राज्य में वीकेंड कर्फ्यू को अभी जारी रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में रविवार को वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति तथा त्रिस्तरीय जन अनुशासन माॅडिफाइड लाॅकडाउन-2 पर चर्चा की गई। मंत्रिपरिषद के सदस्यों ने जीवनरक्षा के साथ-साथ आजीविका के लिए उचित संतुलन स्थापित करने के संबंध में सुझाव दिए। इन सुझावों के आधार पर गृह विभाग सोमवार को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करेगा।

मंत्रिपरिषद ने केंद्र द्वारा प्रदेश में ब्लैक फंगस की दवा की अपर्याप्त आपूर्ति पर चिंता व्यक्त की और रोगियों की संख्या के अनुपात में इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए संबंध में केंद्र सरकार के साथ अधिक समन्वित प्रयास करने पर बल दिया। साथ ही, राज्य के स्तर पर विभिन्न कम्पनियों से भी सम्पर्क करने पर जोर दिया।

मंत्रिपरिषद ने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि संकट के इस समय में ब्लैक फंगस की रोकथाम के लिए विशेष विमान मुम्बई भेजकर राज्य सरकार ने रोगियों की जीवन रक्षा के लिए जरूरी वाइल्स की उपलब्धता सुनिश्चित की है। बैठक में ब्लैक फंगस के रोगियों को समुचित उपचार उपलब्ध कराने के लिए हर स्तर पर प्रयास किए जाने पर बल दिया गया।

बैठक में प्रभारी मंत्रियों ने अपने प्रभार वाले जिलों में दौरों का फीडबैक दिया तथा तीसरी लहर की तैयारियों के बारे में अवगत कराया। प्रभारी मंत्रियों ने दौरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति, टीकाकरण, जन अनुशासन लाॅकडाउन के कारण संक्रमण में आई गिरावट, आॅक्सीजन की उपलब्धता बताई।

बैठक में बताया गया कि राज्य सरकार के कुशल प्रबंधन तथा जन अनुशासन लाॅकडाउन की प्रभावी पालना के कारण राज्य में एक्टिव रोगियों की संख्या में तेजी से कमी लाने में मदद मिली है। माॅडिफाइड लाॅकडाउन के अंतर्गत विभिन्न व्यावसायिक गतिविधियों को कुछ छूट दी गई है। लेकिन कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है।

मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकाॅल की कड़ाई से पालना हर स्तर पर सुनिश्चित की जाए। साथ ही, चिकित्सा विशेषज्ञों की भी यह सलाह है कि लाॅकडाउन के प्रतिबंधों में एक साथ छूट नहीं देकर संक्रमण की तमाम आशंकाओं को ध्यान में रखकर निर्णय किया जाना उचित होगा।

loading...
loading...

Check Also

योगी के कोतवाल ने माइक पर पब्लिक को दी मां-बहन की गालियां, देखें वायरल VIDEO

लखनऊ। अपनी नौकरी का अधिकतम समय उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बिताने वाले लोकप्रिय ...