Sunday , August 1 2021
Breaking News
Home / क्राइम / पति से नाराज महिला की सिपाही से हुई मुलाकात, रानी बनाकर रखने का बोला और 19 दिन रेप किया

पति से नाराज महिला की सिपाही से हुई मुलाकात, रानी बनाकर रखने का बोला और 19 दिन रेप किया

राजस्थान के पाली शहर में पदस्थ एक कांस्टेबल ने एक बार फिर खाकी को शर्मसार किया है। यहां कांस्टेबल ने महिला को झांसा दिया और उदयपुर व माउंटआबू ले जाकर 19 दिन तक रेप किया। पीड़िता का आरोप है कि कांस्टेबल ने उसे रानी बनाकर रखने का सपना दिखाया था। महिला अपने पति और ससुराल वालों पर दहेज प्रताड़ना का केस लगाने के बाद पीहर में रह रही थी। यहीं एक नाली के विवाद के दौरान उसकी मुलाकात कांस्टेबल से हुई थी। इसके बाद दोनों की फोन पर बातचीत होने लगी थी।

पाली के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाली एक महिला ने आरोप लगाया कि उदयपुर, माउंटआबू ले जाकर 19 दिन तक रेप किया। जब शादी की बात कही तो उसे बेरहमी से पीट दिया। महिला ने होटल से ही फोन करके पुलिस को ज्यादती की जानकारी दी। पुलिस महिला को होटल से ले आई तो कांस्टेबल भी खुद ही थाने पहुंच गया, जहां उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी कालूराम रावत ने आरोपी कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है।

पुलिस से की शिकायत में 30 साल की पीड़ित महिला ने बताया कि करीब डेढ़ साल से वह पीहर में रह रही है। उसने अपने पति और ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस महिला थाने में किया है। महिला की शादी कम उम्र में ही 17 साल पहले हुई थी। जिससे उसे एक सात साल का बच्चा भी है।

पड़ोसी से नाली के विवाद में उसकी मुलाकात आरोपी कांस्टेबल अजयपाल भाकल से हुई थी। अजय का भी अपनी पत्नी से विवाद चल रहा है। उसकी अजय से फोन पर बातें होने लगीं तो वह बातों ही बातों में सुनहरे भविष्य के सपना दिखाने लगा। उसने उसे विश्वास दिलाया की वह उससे शादी करके उसे रानी बनाकर रखेगा। आरोपी कांस्टेबल की इन्हीं बातों में वह फंस गई। 11 जून को आरोपी कांस्टेबल उसे भगाकर ले गया। विवाहिता के घर से बिना बताए निकल जाने पर 13 जून को उसकी मां ने औद्योगिक थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

कांस्टेबल डेढ़ माह से चल रहा गैर हाजिर
आसोप (जोधपुर) निवासी आरोपी कांस्टेबल अजयपाल भाकल (25) पुत्र बाबूलाल भाकल की 18 दिसम्बर 2015 को प्रथम नियुक्ति पाली में हुई थी। 19 मई 2021 से आरोपी कांस्टेबल अपनी इच्छा से गैर हाजिर चल रहा हैं। इसको लेकर उसको कई बार नोटिस भेजे गए लेकिन एक बार भी उसने जवाब नहीं दिया।

loading...

Check Also

लखनऊ को धमकी: ‘मुजाहिदों को करो आजाद, नहीं तो मंदिरों में होगा ब्लास्ट’

लखनऊ: यूपी एटीएस द्वारा पकड़े गए आतंकियों को छुड़ाने और मंदिर के साथ-साथ आरएसएस कार्यालय को ...