https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-91096054-1">
Friday , June 25 2021
Breaking News
Home / खबर / योगगुरु मामले की सुनवाई में जज को याद आया जूही चावला का केस, बोले बेहद मजाकिया बात

योगगुरु मामले की सुनवाई में जज को याद आया जूही चावला का केस, बोले बेहद मजाकिया बात

दिल्ली हाई कोर्ट में गुरुवार को योगगुरु बाबा रामदेव के खिलाफ दायर एक याचिका पर सुनवाई चल रही थी। इसी दौरान जस्टिस हरिशंकर को बॉलीवुड एक्ट्रेस जूही चावला का केस याद आ गया। जज ने कहा कि मुझे खुशी है कि मैंने जूही के मामले की सुनवाई नहीं की। जज ने यह बात मजाकिया अंदाज में कही। उन्होंने कहा कि अब देखते हैं इस मामले की रिपोर्टिंग किस तरह होती है।

दरअसल, जूही चावला की 5G टेक्नोलॉजी के खिलाफ दायर याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को ऑनलाइन सुनवाई की थी। इस दौरान जूही चावला ने सुनवाई का वीडियो लिंक सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया था। इसी वीडियो लिंक से कई लोग जुड़ गए थे। इस दौरान कई यूजर्स जूही की फिल्मों के गाने भी चलाने लगे।

‘लाल-लाल होठों पर गोरी किसका नाम है’ गाने बजाए
बहस के दौरान किसी व्यक्ति ने गाना गाना शुरू कर दिया- घूंघट की आड़ में दिलबर का… इस पर कोर्ट ने उसे म्यूट करने को कहा। कुछ देर बाद वीडियो लिंक पर दूसरा गाना सुनाई दिया- लाल-लाल होठों पर गोरी किसका नाम है… हद तो तब हो गई, जब सुनवाई के दौरान तीसरा गाना- मेरी बन्नो की आएगी बारात गूंजने लगा। इसके बाद कोर्ट ने नाराजगी जाहिर करते हुए कोर्ट मास्टर को इन लोगों को खोजकर अवमानना नोटिस देने का आदेश दिया।

दिल्ली हाई कोर्ट ने रामदेव को समन जारी किया
इस मामले की याद जस्टिस हरिशंकर को बाबा रामदेव के केस की सुनवाई के दौरान आई। दरअसल, एलोपैथी के खिलाफ और कोरोनिल के समर्थन में रामदेव के बयान के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में गुरुवार को सुनवाई हुई। इस मामले में दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन (DMA) ने पिटीशन फाइल की थी। DMA ने कोर्ट से अपील की थी कि रामदेव को झूठे बयान देने और पतंजलि की कोरोनिल टैबलेट का प्रचार करने से रोकना चाहिए। DMA की अर्जी पर हाईकोर्ट ने रामदेव को समन जारी कर दिया है। इस मामले की अगली सुनवाई 13 जुलाई को होगी।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन भी कर चुकी है शिकायत
रामदेव के खिलाफ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) भी केस कर चुकी है। पिछले दिनों IMA ने दिल्ली के आईपी एस्टेट पुलिस स्टेशन में योगगुरु के खिलाफ शिकायत दी थी। इसमें रामदेव पर महामारी एक्ट, आपदा एक्ट और राजद्रोह समेत दूसरी धाराओं के तहत FIR दर्ज करने की मांग की गई थी।

loading...
loading...

Check Also

WTC Final में हार से मायूस विराट ने दिया बड़ा बयान, टीम से इन 4 का होगा पत्ता साफ!

नई दिल्ली:  बुधवार को WTC Final 2021 में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार के बाद ...