Thursday , May 6 2021
Breaking News
Home / क्राइम / एक्सपायरी डेट के रेमडेसिवर इंजेक्शन बेच रहा था भाजपा नेता का बेटा, साथी सहित पकड़ा गया

एक्सपायरी डेट के रेमडेसिवर इंजेक्शन बेच रहा था भाजपा नेता का बेटा, साथी सहित पकड़ा गया

सूरत . कोरोना महामारी के दौर में जहां रोजाना सैकड़ों की तादाद में लोग दम तोड़ रहे हैं। इस बीच भी कुछ लोग मौत बेचने से बाज नहीं आ रहे। कोरोना मरीजों के जीवन रक्षक रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का एक और मामला सूरत शहर से सामने आया है। क्राइम ब्रांच की टीम ने एक्सपायरी डेट का इंजेक्शन बेचते हुए दो युवकों को अरेस्ट किया है, जिनमें से एक भाजपा के पूर्व पार्षद का बेटा भी शामिल है।

डॉक्टर की सक्रियता से पकड़ में आए
एक संक्रमित कोरोना रोगी को इंजेक्शन लगाते समय डॉक्टर ने एक्सपायरी डेट देख दी और मरीज के परिजनों के बताया। पूछताछ में परिजन ने बताया कि उन्होंने यह इंजेक्शन दिव्येश पटेल से 7000 रुपए में खरीदा था। इसके बाद क्राइम ब्रांच को सूचना दी गई। इस मामले में भाजपा की पूर्व पार्षद साधना पटेल के बेटे दिव्येश पटेल और उसके एक साथी को हिरासत में लिया। दिव्येश पटेल ने यह इंजेक्शन 7,000 रुपए में बेचा था।

एक साल पहले लिए थे इंजेक्शन
क्राइम ब्रांच की पूछताछ में आरोपी दिव्येश ने बताया कि उसने रेमडेसिवर के कुछ इंजेक्शन केपी सिंघवी हॉस्पिटल में मेडिकल स्टोर हेड ऑफ डिपार्टमेंट विशाल अवस्थी से पिछले साल खरीदे थे। आरोपी का कहना है कि उसने एक ही इंजेक्शन बेचा है और मरीज के रिश्तेदार को बताया भी था कि उसके पास एक्सपायरी डेट के इंजेक्शन हैं।

हालांकि, क्राइम ब्रांच को शक है कि आरोपी अपने बचाव में इस तरह के बयान दे रहा है। फिलहाल रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी को लेकर दोनों आरोपियों से और पूछताछ जारी है। साथ ही मेडिकल स्टोर हेड ऑफ डिपार्टमेंट विशाल अवस्थी से भी पूछताछ जारी है।

loading...
loading...

Check Also

यूपी का सिस्टम : कानपुर में वेंटिलेटर न मिलने से 2 दिन में 110 मरीजों ने दम तोड़ा, ये है श्मशान का नजारा

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बदहाल सिस्टम ने दो दिनों के अंदर 110 कोरोना मरीजों ...