Tuesday , September 21 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मथुरा में नहीं थम रहा रहस्यमयी बुखार का कहर, 2 बहनों की मौत, मचा हड़कंप

मथुरा में नहीं थम रहा रहस्यमयी बुखार का कहर, 2 बहनों की मौत, मचा हड़कंप

मथुरा में रहस्यमयी बुखार के कहर ने लोगों का जीना दुष्वार कर दिया है. अब तक जनपद में रहस्यमयी बुखार के चलते 16 बच्चों की मौत हो चुकी है. फरह क्षेत्र के हथियाबली गांव में बुखार की चपेट में आने से 2 दिन में 2 सगी बहनों की मौत हो गई. वहीं, तीसरी बहन की हालत गंभीर बताई जा रही है.

मथुरा: जनपद में रहस्यमयी बुखार का कहर लगातार जारी है. अब तक जनपद में रहस्यमयी बुखार के चलते 16 बच्चों की मौत हो चुकी है. जनपद के कई गांव बुखार की चपेट में है, जिसके चलते भारी संख्या में लोग बुखार से ग्रसित है. जनपद के फरह क्षेत्र के कोह गांव में 11 बच्चों की बुखार के चलते मौत हो चुकी है तो वही गोवर्धन के जचोंदा और जुगसना गांव में 3 बच्चों की मौत. वहीं अब फरह क्षेत्र का हथियाबली गांव भी इस बुखार की चपेट में है, जिसके चलते यहां 2 दिन के अंतराल पर ही 2 सगी बहनों ने दम तोड़ दिया, तो वहीं तीसरी बहन की हालत गंभीर है.

नहीं थम रहा रहस्यमयी बुखार का कहर 

मथुरा में रहस्यमयी बुखार का कहर लगातार जारी है. अब तक जनपद के कई गांव इसकी चपेट में आ चुके हैं. जनपद में अब तक बुखार के चलते 16 बच्चों की मौत हो चुकी है तो वहीं भारी संख्या में बच्चे बुखार से ग्रसित हैं. जनपद मथुरा के फरह क्षेत्र के हथियाबली गांव के रहने वाले रतन सिंह की 9 वर्षीय बालिका सोनम ने 5 सितंबर को बुखार के चलते उपचार के दौरान दम तोड़ दिया, तो वहीं दूसरी पुत्री 8 वर्षीय सोनिया ने उपचार के दौरान 7 सितंबर को दम तोड़ दिया. वहीं तीसरी बेटी खुशबू की हुई हालत गंभीर बनी हुई है.

वहीं, ग्रामीण स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं. ग्रामीणों का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन केवल खानापूर्ति कर रहा है. बच्चों को सही समय पर उपचार नहीं मिल पा रहा. जिसके कारण बच्चों की मौत हो रही है. इतनी मौतें हो जाने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन मामले को गंभीरता से नहीं ले रहा है.

नोडल अधिकारी डॉक्टर भूदेव सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें उन गांवों में डेरा डाले हुई है जो बुखार की चपेट में है .लगातार स्वास्थ्य विभाग मरीजों पर निगाह बनाए हुए हैं. गंभीर मरीजों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है और उनका समुचित इलाज कराया जा रहा है. गांव में मरीजों को लगातार दवाइयां कैंप लगाकर वितरित की जा रही है. उनका चिकित्सीय परीक्षण किया जा रहा है. वहीं, लगातार मरीजों की जांच चल रही है.

loading...

Check Also

RCB vs KKR : कोहली के रडार पर 2 बड़े रिकॉर्ड, एक का बनना तो एकदम पक्का

आईपीएल फेज-2 का आज दूसरा मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच ...