Tuesday , May 18 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण : असली गुनहगार कौन ? जालसाज या फिर विभाग

मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण : असली गुनहगार कौन ? जालसाज या फिर विभाग

बाराबंकी ।   मुख्तार अंसारी के एंबुलेंस प्रकरण में भले ही पुलिस उससे जुड़े लोगों को गिरफ्तार कर एक बड़ी कामयाबी हासिल की है किंतु यहां सवाल यह भी उठता है कि आखिर इस पूरे प्रकरण का असली जिम्मेदार कौन है , क्या जालसाज पर कार्यवाही करने से इस तरह के लोगों पर विराम लगेगा अथवा ऐसे लोग इसी तरह अपने मंसूबों में कामयाब होते रहेंगे यह तो आने वाला समय बताएगा लेकिन कुछ इस तरह के सवाल अब जिले की आम जनता के जेहन में है ।

 

और तरह-तरह के सवाल कर रही हैं कहा जा रहा है कि जब जालसाज अपने मंसूबों में कामयाब हो रहे थे तो उस समय क्या विभाग व पुलिस सो रही थी जो अब इस समय सक्रिय है यही सक्रियता यदि पहले दिखाई जाती तो शायद इतना बड़ा मामला सामने नहीं आता यह तो हाई प्रोफाइल प्रकरण है जो सामने आ गया सूत्रों का कहना है कि इस तरह के ना जाने कितने मामले हैं जिनको खंगालने से विभाग का ही पर्दा पूरी तरह से उठ जाएगा जो पूरी तरह से भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबा है । अंदर से लेकर बाहर तक दलालों का बोलबाला है इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि विभाग ऐसे जालसाजो के खिलाफ किस कदर सक्रिय है बावजूद इसके इस तरफ किसी का ध्यान नहीं जा रहा है ।

पुलिस है कि सिर्फ जालसाजी की पोल खोलने मे ही लगी हुई है निश्चित ही पुलिस का यह सराहनीय कदम है लेकिन उन तथ्यों को भी खंगालना होगा जिनकी लापरवाही से कुख्यात माफिया आज तक उस एसी एंबुलेंस का लुफ्त ले रहा था और किसी को इसकी भनक तक नही लगी । यदि ऐसा ना हुआ तो यह कहना गलत ना होगा कि ना तो इस तरह के कार्य पर विराम लगेगा और ना ही ऐसे लोगों में दहशत । फिलहाल यह मामला अब अन्दर ही अन्दर सुलग रहा है जो कभी भी विस्फोटक हो सकता है । विपक्षी दल के एक नेता का कहना है कि विभाग शिकंजा इस लिये नही कसा जा रहा कि विभाग तो नपेगा ही कई और लोग भी वेनकाब हो जायेंगे जिनके तार जुङे है ।

loading...
loading...

Check Also

कांग्रेस MLA की गर्लफ्रेंड की खुदकुशी: जल्द शादी करने वाले थे उमंग सिंघार, इंटरनेट पर हुई थी मुलाकात

भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व वन मंत्री और गंधवानी से कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार की मुश्किलें बढ़ ...