Friday , July 30 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कोरोना से जंग में जीता यूपी, अब इस काम पर पूरा फोकस किए योगी

कोरोना से जंग में जीता यूपी, अब इस काम पर पूरा फोकस किए योगी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजो की संख्या में लगातार कमी आ रही है,साथ ही रिकवरी रेट भी सुधर रहा है।वही वैक्सीनेशन भी वापस से ट्रैक पर आता दिख रहा है। प्रदेश में रोजाना सात से आठ लाख डोज टीकाकरण की लग रही हैं।उत्तर प्रदेश देश में सबसे ज्यादा तीन करोड़ लोगों को सिंगल डोज़ लगाने वाला पहला राज्य बन गया।हालांकि डेल्टा प्लस को लेकर हाई अलर्ट जारी हैइस बीच गुरुवार को सौ से ज्यादा नए कोरोना पॉजिटिव मरीज केस दर्ज हुए है पर अहम बात यह है कि सूबे के 33 जनपदों में कोरोना के मरीज शून्य है।

गुरुवार को 24 घंटे में 2 लाख 59 हजार 174 के करीब टेस्ट किए गए।इस दौरान 112 लोगों में कोविड 19 की पुष्टि हुई।मरीजों की मौत की संख्या 10 रही।64 दिन से केस कम हो रहे हैं,इस बीच बीते 24 घंटे में 258 लोगों रिकवर हुए है। फिलहाल 1789 एक्टिव केस हैं।वहीं अब श्रावस्ती, अलीगढ़ व कासगंज भी कोरोना मुक्त हो गए।अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल के मुताबिक कोरोना मुक्त जनपदों को मुख्यमंत्री सम्मानित भी करेंगे।इन जनपदों में कोई एक्टिव केस नहीं रह गया है।साथ ही सात दिन से किसी मरीज में वायरस की पुष्टि नहीं हुई है।

0.04 फीसदी रही पॉजिटीविटी रेट –

मरीजों की कुल पॉजिटीविटी रेट 3 फीसद घटकर 2.88 रह गई है।इसके अलावा अगर बीते 24 घंटे की बात करे तो राज्य में पॉजिटीविटी रेट 0.04 फीसद है।वहीं मृत्युदर अभी भी 1 फीसद पर बनी हुई है।जून में प्रदेश में संक्रमण दर का औसत 1 फीसद रही।अब तक कुल संक्रमण दर 2.85 फीसद रही।

98.6 फीसद पर रिकवरी रेट –

30 अप्रैल को यूपी में सर्वाधिक एक्टिव केस 3 लाख 10 हजार 783 रहे।अब यह संख्या घटकर दो हजार हजार से नीचे आ गई है।वहीं रिकवरी रेट मार्च में जहां 98.2 फीसद थी।अप्रैल में घटकर 76 फीसद तक पहुंच गई। वर्तमान में फिर रिकवरी रेट 98.6 फीसद हो गई है।राज्य के 33 जिलों में कोरोना के केस शून्य रहे।41 जनपदों में 10 से कम मरीज रहे, सिर्फ बनारस में डबल डिजिट में मरीज रिकॉर्ड किए गए।वहीं लखनऊ में भी मार्च बाद 10 से कम केस मिले।

डेल्टा प्लस को लेकर हाई अलर्ट जारी –

डेल्टा प्लस के केस अभी तक यूपी समेत देश के 13 राज्यों में रिपोर्ट किए गए हैं।51 से अधिक मरीजों में इसकी पुष्टि हो चुकी है।ऐसे में एयरपोर्ट, बस स्टॉप, रेलवे स्टेशन पर अलर्ट है।हेल्थ टीम इन मरीजों का कोरोना टेस्ट कर रही है।वहीं पॉजिटिव आए मरीजों का सैम्पल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भी भेजा जा रहा है।

यह है प्रदेश में वैक्सीनेशन की रफ्तार –

यूपी में वैक्सीनेशन रफ्तार पकड़ रहा है।हर रोज सात से आठ लाख डोज लग रही हैं।वहीं देश में सबसे ज्यादा तीन करोड़ लोगों को सिंगल डोज़ लगाने वाला पहला राज्य बन गया।अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक राज्य में पहले चार से पांच लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जाती थी।जून के दूसरे सप्ताह से हर रोज 6 लाख टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया। वहीं 21 जून से हेल्थ टीम द्वारा सात लाख से साढ़े आठ लाख तक रोज डोज़ लगाना शुरू किया।

ऐसे में जून में एक करोड़ डोज़ लगाने का लक्ष्य 24 दिन में हासिल कर लिया गया।जुलाई में सोमवार को एक दिन में 10 लाख 3 हजार 425 डोज़ लगाई गई।यह अब तक का एक दिन में सर्वाधिक वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड है।इससे पहले 24 जून को 8.63 लाख को टीका लगा था।उत्तर प्रदेश 3 करोड़ आबादी को सिंगल डोज़ लगाकर देश में पहले स्थान पर है।

यूपी में अब तक साढ़े तीन करोड़ को डोज़ –

यूपी में गुरुवार को 6540 केंद्र पर टीका लगा।अब तक कुल 3 करोड़ 58 लाख 35 हजार 932 को डोज़ लगी। इसमें 3 करोड़ 3 लाख, 34 हजार, 706 को पहली डोज़ लगी।दूसरी डोज़ 55 लाख, 1हजार 226 से अधिक को लगी।गुरुवार को शाम पांच बजे तक 6,69,094 को डोज़ लगी।

loading...

Check Also

सीरो सर्वे : तीसरी लहर की आशंका के बीच यूपी ने दी गुड न्यूज़, 71% लोगों में मिली एंटीबॉडी

लखनऊ :  कोरोना की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच यूपी के लिए राहत भरी ...