Sunday , August 1 2021
Breaking News
Home / खबर / गुड न्यूज: दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर खत्म, यहां देखें बड़ा सबूत

गुड न्यूज: दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर खत्म, यहां देखें बड़ा सबूत

नई दिल्ली:  राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus Cases in Delhi) के मामले हर रोज कम हो रहे हैं. गुरुवार को जारी सरकारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 72 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान एक मरीज की मौत हुई है. 72 नए केस आने के बाद दिल्ली में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 14,35,353 हो गई है. अब तक 25,022 कोविड मरीजों की मौत हुई है.

दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 671 हो गई है. कोरोना संक्रमण दर 0.1 फीसदी है. होम आइसोलेशन में 230 मरीज हैं. सक्रिय कोरोना मरीजों की दर लगातार चौथे दिन 0.04 फीसदी रही. रिकवरी दर लगातार सातवें दिन 98.2 फीसदी रही.

पिछले 24 घंटों में 88 मरीज डिस्चार्ज हुए. अब तक कुल 14,09,660 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं. इस अवधि में कोविड के 69,212 टेस्ट किए गए, इसमें से 45,615 RT-PCR और 23,597 एंटीजन टेस्ट थे. टेस्ट का कुल आंकड़ा 2,25,72,277 हो गया है. दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या 439 हो गई है. कोरोना का डेथ रेट 1.74 फीसदी है.

बताते चलें कि दिल्ली सरकार (Delhi Govt) ने कोविड से निपटने के लिए ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (GRAP) तैयार किया है. दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) की बैठक में इसे मंजूरी दी गई. इस ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान में यह बताया गया है कि कोरोना के चलते कब और किन हालातों में क्या एक्शन लिया जाएगा. इस GRAP में चार तरह के अलर्ट होंगे, लेवल-1 (येलो), लेवल-2 (एम्बर), लेवल-3 (ऑरेंज) और लेवल-4 (रेड).

लेवल-1 (येलो), यह तब लागू होगा, जब लगातार दो दिन तक कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 0.5 फीसदी से ज्यादा होगा. बीते एक हफ्ते में 1500 नए मामले आएंगे या एक हफ्ते में 500 ऑक्सीजन बेड पर मरीज भर्ती हो जाएं.

लेवल-2 (एम्बर), यह तब लागू होगा, जब लगातार दो दिन तक एक फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट रहेगा या 1 हफ्ते के अंदर 3500 नए संक्रमण के मामले आएंगे या फिर एक हफ्ते में 700 ऑक्सीजन बेड पर मरीज भर्ती हो जाएं.

लेवल- 3 (ऑरेंज), यह तब लागू होगा, जब लगातार दो दिन तक दो फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट हो जाए या 1 हफ्ते के अंदर 9000 संक्रमण के मामले आ जाएं या फिर एक हफ्ते में 1000 ऑक्सीजन बेड पर मरीज भर्ती हो जाएं.

लेवल-4 (रेड), यह तब लागू होगा, जब लगातार दो दिन तक पांच फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट रहे या फिर 1 हफ्ते में 16000 से ज्यादा नए संक्रमण के मामले आ जाएं या फिर 3000 ऑक्सीजन बेड पर मरीज भर्ती हो जाएं. जानिए किस अलर्ट के लागू होने पर क्या होगा?

 

loading...

Check Also

अनलॉक हुआ रेलवे: 16 ट्रेनें फिर से चलाने का ऐलान, देखें लिस्ट

रक्षाबंधन से पहले भारतीय रेलवे मध्यप्रदेश के लाखों रेलवे यात्रियों को बड़ी सौगात देने जा ...