Tuesday , November 30 2021
Home / ऑफबीट / यहां लगा लाशों का ढेर, एक दिन में 1562 मौतें, दफनाने की नहीं बची जगह

यहां लगा लाशों का ढेर, एक दिन में 1562 मौतें, दफनाने की नहीं बची जगह

अमेरिका के न्यूयॉर्क से डराने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं. यहां कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते हर दिन हालात बिगड़ते जा रहे हैं. मौत का आंकड़ा इतनी  तेजी से बढ़ा है कि अस्थायी मुर्दाघरों में लाशों के ढेर लग चुके हैं जो अंत्येष्टि के इंतजार में हैं. इसी कारण अब प्रशासन मृतकों का अंतिम संस्कार स्टेट से बाहर करने का इंतजाम कर रहा है. गुरुवार को ही न्यूयॉर्क में 1562 लोगों की कोरोना ने जान ले ली.

इस बारे में शवदाह गृह चलाने वाला एक शख्स Anthony Cassieri कहता है कि हमारे यहां लाशें वेटिंग लिस्ट में हैं ताकि उनका अंतिम संस्कार हो सके. ये अच्छे हालात नहीं. यही वजह है कि बुधवार 22 अप्रैल को फ्यूनरल एसोसिएशन ने अपने पड़ोसी स्टेट्स के एसोसिएशन की मीटिंग बुलाई ताकि मृतकों के अंतिम संस्कार में मदद मिल सके.

New York State Funeral Directors Association के डायरेक्टर माइक लनोटे का कहना है कि पिछले 30 या 40 सालों से इस काम में लगे लोगों ने भी ऐसे हालात नहीं देखे थे. लाशों का ढेर लगा हुआ है और फिर भी लाशें आ रही हैं.स्टेट में कुल 4 शवदाह गृह हैं. अब वे चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं. कम से कम 45 मोबाइल मुर्दाघर तैयार किए गए हैं, ताकि लाशें अस्पताल से निकलने के बाद अंतिम संस्कार तक संभालकर रखी जा सकें.

यहां तक कि न्यूयॉर्क का U.S. Department of Defense भी कथित तौर पर इसमें मदद कर रहा है और दर्जनों अफसर भेजे जा चुके हैं जो लाशों की हैंडलिंग कर सकें. या नए मुर्दाघर तैयार करवा सकें. इसके बाद भी स्थिति इतनी बिगड़ चुकी है कि अब शवगृहों में अपॉइंटमेंट ली जा रही है और हफ्तों बाद नंबर आता है. चूंकि शहर के चारों ही शवदाह गृह भर चुके हैं, लिहाजा लाशों के अंतिम संस्कार के लिए उन्हें न्यूयॉक से बाहर ले जाने की व्यवस्था पर बात हो रही है.

फिलहाल स्टेट के हार्ट आइलैंड (Hart Island) में लाशें लाई जाने लगी हैं. ये वो द्वीप है, जहां 19वीं सदी से ऐसी लाशें दफनाई जा रही हैं, जिनका कोई रिश्तेदार या जाननेवाला नहीं होता. या फिर जिनके परिवार अंतिम संस्कार का खर्च नहीं उठा सकते. इसके अलावा संक्रामक मानी जाने वाली बीमारी जैसे H.I.V./aids और सिफलिस जैसे यौनरोग से हुई मौत में शवों को यहां दफनाया जाता रहा है.

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...