Saturday , May 15 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / यूपी पंचायत चुनाव 2021 : नतीजों को खूब प्रभावित किए नामी डकैत, कईयों के परिजन चुने गए प्रधान

यूपी पंचायत चुनाव 2021 : नतीजों को खूब प्रभावित किए नामी डकैत, कईयों के परिजन चुने गए प्रधान

लखनऊ. यूपी पंचायत चुनाव के रिजल्ट हैरान करने वाले हैं। जनता विकास के लिए वोट देती है। पर बुंदेलखंड में पांच लाख रुपए इनामी डाकू का बेटा प्रधान चुन लिया गया। कुख्यात डकैत ठोकिया का छोटा भाई दीपक पटेल भी ग्राम प्रधान निर्वाचित हुआ। एक और बड़े डकैत की मेहरारू बस जीत के करीब है। जनता की पसंद कोई समझ नहीं सकता है।

डकैत ‘राधे’ का बेटा चुना गया प्रधान :- एक बार फिर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में डकैतों के परिजन अपना दबदबा बनाने में कामयाब हुए हैं। देश की सबसे छोटी संस्था ग्राम पंचायत की सरकार अब डकैतों के परिजन चलाएंगे। बुंदेलखुड के चित्रकूट जिले के साढ़े सात लाख रुपए के इनामी डकैत ददुआ के राइट हैंड इनामी डकैत ‘राधे’ का बेटा अरिमर्दन सिंह उर्फ सोनू चित्रकूट के करवी ब्लॉक के शीतलपुर तरौंहा गांव से प्रधान बनने में कामयाब हो गया है। डकैत राधे के बेटे अरिमर्दन सिंह ने प्रधानी के चुनाव के लिए जनता से कुल 192 वोट पाए और प्रधान की जीत की पगड़ी पहनीं। उनके प्रतिद्वंदी इस चुनाव उनसे सिर्फ 12 वोट पीछे रहे।

मां सत्यवती दो बार रही ग्राम प्रधान :- डकैत ‘राधे’ इस समय जेल में सजा काट रहा है। डकैत ‘राधे’ की पत्नी और अरिमर्दन सिंह की मां सत्यवती इससे पहले दो बार इस गांव से प्रधान रह चुकी है। इस बार बेटे अरिमर्दन सिंह को चुनाव मैदान में उतारा, तो वहां भी जीत दर्ज की।

ठोकिया का छोटा भाई बना ग्राम प्रधान :- चित्रकूट जिले के दूसरे नंबर के कुख्यात डकैत अंबिका पटेल उर्फ “ठोकिया” का छोटा भाई दीपक पटेल भी ग्राम प्रधान चुना गया। करवी विकासखंड के बंदरी गांव से दीपक पटेल ने ग्राम प्रधान का चुनाव जीत लिया है। वही खूंखार डाकू खडग सिंह की पत्नी माया देवी मड़ैयान गांव से चुनाव लड़ी हैं, अभी उनके वोटों की गिनती नहीं हो पाई है।

loading...
loading...

Check Also

कफनचोर गैंग के सपोर्ट में बोले BJP नेता- ये तो हमारे वोटर हैं.. छोड़ दीजिए योगीजी..

थोड़े ही दिन पहले मानवता को शर्मसार करने वाली खबर आई थी। कुछ लोगों के ...