Wednesday , May 12 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / यूपी में कोरोना की आंधी, 24 घंटों तक मचा कत्लेआम, लेकिन अभी पीक आना बाकी !

यूपी में कोरोना की आंधी, 24 घंटों तक मचा कत्लेआम, लेकिन अभी पीक आना बाकी !

लखनऊ. प्रदेश भर कोरोना का संक्रमण अब भी जारी है। मंगलवार को नए कोविड मामलों (UP corona update) में कमी देखने को मिली, लेकिन मृतकों की संख्या में इजाफा हुआ। प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था अभी भी दुरुस्त नहीं हो सकी है और भाजपा (BJP) के दो सांसदों ने ही इसको लेकर सीएम योगी को पत्र भी लिखा। स्थिति भयावह है और नीति आयोग द्वारा अनुमान जताया गया है कि 15 मई तक यूपी हॉटस्पॉट (Hotspots) बन जाएगा।

एक दिन में 265 की मौत-
उत्तर प्रदेश में तीन दिनों से कोरोना के ग्राफ में गिरावट देखने को मिल रही है। मंगलवार को 32,993 नए कोविड मामले सामने आए। हालांकि यह संख्या छोटी नहीं हैं, लेकिन लगातार तीसरे दिन मामलों में कमी आना और डिस्चार्ज रेट बढ़ना, इस संकट के दौर में कुछ उम्मीद जरूरी देता है। मंगलवार को कुल 30,398 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। लेकिन मृतकों की संख्या बढ़ी है। मंगलवार को 265 मरीजों ने दम तोड़ दिया। सोमवार को 249 की मौत हुई थी। वहीं उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि उत्तर प्रदेश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 3,06,458 है। कल प्रदेश में 1,84,144 सैंपल्स की जांच की गई। अब तक उत्तर प्रदेश में कुल 4,01,41,354 सैंपल्स की जांच की गई है। 4 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है।

15 मई तक यूपी हॉटस्पॉट बन जाएगा-
उप्र में जिस तरह से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है उस पर रोक न लगी तो आने वाले दिनों सरकार को हर रोज 16752 ऑक्सीजन से लैस आइसोलेशन बेड, 3061 आईसीयू बेड और 1538 वेटिलेंटर्स की जरूरत होगी। 30 अप्रेल तक यूपी में हर दिन एक लाख से ज्यादा मामले मिल सकते हैं। दूसरी लहर में 15 मई तक यूपी हॉटस्पॉट बन जाएगा। यह आंकड़ा नीति आयोग ने जारी किया है। साथ ही नीति आयोग ने चेताया है कि गांवों में भी तेजी से संक्रमण फैल रहा है। इसे भी रोकने की जरूरत है। अन्यथा स्थिति विस्फोटक हो सकती है।

भाजपा के दो सांसदों ने खोली व्यवस्थाओं की पोल-

भाजपा में दो सांसदों ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मोजनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर शर्मा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड की समस्या पर ध्यान दिलाते हुए कोरोना मरीजों के इलाज व्यवस्था पर सवाल खड़े किये हैं। तो मेरठ-हापुड़ से बीजेपी सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने भी ऑक्सीजन की कमी के लिये मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। कौशल किशोर शर्मा ने तो इलाज में लापरवाही के जिम्मेदारों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज करने तक की मांग की है। बीजेपी सांसदों के अलावा भाजपा के कई विधायक भी मुखर हुए हैं। उनकी शिकायत है कि सिर्फ फोन सुनने के अलावा वो कोई मदद नहीं कर पा रहे। ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री ब्रजेश पाठक भी लखनऊ में कोविड की बदइंतजामी और बदहाली को लेकर चिट्ठी के जरिये अपना दर्द बयां कर चुके हैं।

कानपुर आईआईटी ने बनाई ऑक्सीजन ऑडिट ऐप-
कोरोनाकाल के दौरान किसी चीज को लेकर सबसे अधिक हंमागा कट रहा है, तो वह है ऑक्सीजन। इसकी कमी के चलते उत्तर प्रदेश के हजारों लोगों ने अपनी जान गवा दी है, हालांकि अब जाकर तैयारियां कुछ दुरुस्त हो रही हैं। ऑक्सीजन टैंकरों का दूसरे राज्यों से आना जारी है। तो वहीं शासन के आदेश पर आईआईटी कानपुर ने ऑक्सीजन ऑडिट ऐप भी तैयार किया है, जिससे अस्पतालों में ऑक्सीजन की मांग व पूर्ति के बीच के अंतर को त्वरित खत्म कर मरीजों की मदद की जा सके। आईआईटी कानपुर ने इस एप को एक दिन के अंदर बनाकर शासन को सौंप दिया है।

मुख्तार अंसारी की आरटीपीसीआर रिपोर्ट भी पॉजिटिव-

माफिया डॉन और बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की एंटीजन टेस्ट में कोरोना संक्रमित आने के बाद अब उसकी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। हालांकि मुख्तार अंसारी को कोरोनावायरस के कोई लक्षण नहीं है। मुख्तार को बांदा जेल के बैरक नंबर 16 में आइसोलेट कर दिया गया है। जेल अधीक्षक के मुताबिक किसी भी तरह के लक्षण दिखने पर मुख्तार अंसारी का इलाज किया जाएगा। आपको बता दें इसी महीने कड़ी सुरक्षा के बीच मुख्तार अंसारी को पंजाब के रोपड़ जेल से बांदा शिफ्ट किया गया था। मुख्तार अंसारी के खिलाफ प्रदेश में दर्ज कई आपराधिक मामलों की सुनवाई चल रही है।

loading...
loading...

Check Also

कोरोना मरीज का ऑक्सीजन मास्क हटाकर महिलाएं करने लगीं पूजा, फिर हुआ कुछ ऐसा!

यूपी के कानपुर से एक हैरान कर देने वाला वीडियो वायरल हुआ है. जहां पर ...